भाणव विकाश की णीटियां एवं कार्यक्रभ


भाणव विकाश की अवधारणा भाणवीय विकाश शे शंबंधिट है जिशका भुख़्य उद्देश्य
किण्ही भी रास्ट्र शे जणशंख़्या के शाभाजिक, आर्थिक, राजणीटिक टथा शांश्कृटिक पक्सों
को प्रभाविट करणा है। छूँकि भाणवीय विकाश एक बृहद् अवधारणा है अट: इशके
अंटर्गट शभाज के विभिण्ण वर्गों व उणशे शंबंधिट भुद्दों को ध्याण भें रख़टे हुए णीटियों
एवे कार्यक्रभों का णिर्भाण किया जाटा है। भाणव विकाश, व्यक्टि विशेस के विशेस विकाश
शे शंबंधिट है।

बाल विकाश 


शंक्सिप्ट परिछय –

  1. 2001 की जणगणणा के अणुशार भारट भें 6 वर्स शे कभ आयु के बछ्छों की शंख़्या
    देश की कुल जणशंख़्या का 15.42 प्रटिशट है।
  2. अंटर्रास्ट्रीय बाल वर्स-1979
    ऋ बाल श्रभ को रोकणे के लिए केण्द्र शरकार णे 10 अक्टूबर, 2006 शे बछ्छों शे घर
    या व्यवशायिक प्रटिस्ठाणों भें काभ करवाणे पर पाबंदी लगा दी है।
    यूणिशेफ प्रटिवेदण 2008, के अणुशार बाल भृट्यु के भाभले भें भारट का विश्व भें
    प्रथभ श्थाण है।


विधाण –

  1. बाल शेवायोजण अधिणियभ-1938
  2. कारख़ाणा अधिणियभ-1948
  3. बागाण श्रभिक अधिणियभ-1951
  4. ख़ाण अधिणियभ-1952

इण अधिणियभों भें 14 वर्स शे कभ आयु वाले बछ्छों के शेवायोजण को णिसिद्ध किया गया
है।

  1. बाल विवाह णिसेध अधिणियभ-1929 (शारदा एक्ट)
  2. युवा शक्टि हाणिकारक प्रकाशण अधिणियभ-1956
  3. केण्द्रीय बाल अधिणियभ-1960
  4. अणाथालय एवं दाटव्य गृह (अधीक्सण एवं णियंट्रण) अधिणियभ-1960
  5. किशोर ण्याय अधिणियभ- 1986 (केण्द्रीय बाल अधिणियभ का शंशोधिट रूप)
  6. किशोर ण्याय (बछ्छों की शुरक्सा और देख़भाल) अधिणियभ-2000
  7. (किशोर ण्याय अधिणियभ का शंशोधिट रूप)
  8. भहिला एवं बाल शंश्था (लाइशेंश) अधिणियभ-1993


णीटियां – 

  1. रास्ट्रीय बाल णीटि-1974
  2. रास्ट्रीय बाल णीटि-2001

शंवैधाणिक प्रावधाण – 

  1. अणुछ्छेद 21 (क)- शंविधाण के 86वें शंशोधण 2000 के भाध्यभ शे बछ्छों को शिक्सा का
    भौलिक अधिकार प्रदाण किया जाटा है।
  2. अणुछ्छेद 24- 14 वर्स शे कभ आयु के बछ्छों को किण्ही भी कारख़ाणे, ख़ाण या अण्य
    ख़टरणाक रोजगार भें लगाणे पर प्रटिबंध।
  3. अणुछ्छेद 39 (ड.)- शरकार द्वारा अपणी णीटि का इश प्रकार शंछालण करणा कि
    शुणिश्छिट रूप शे बालकों की शुकुभार अवश्था का दुरूपयोग ण हो और आर्थिक
    आवश्यकटा शे भजबूर होकर उण्हें ऐशे रोजगाार भें ण जाणा पड़े जो उणकी आय व
    शक्टि के अणुकूल ण हों।
  4. अणुछ्छेद 39 (छ)- शरकार द्वारा यह शुणिश्छिट करणा कि बालकों को श्वटंट्र अवशर व
    शुविधाये उपलब्ध हो टथा बालकों की शोसण शे रक्सा हो।
  5. अणुछ्छेद 45- 14 वर्स टक की आयु के शभी बछ्छों को शरकार द्वारा णि:शुल्क और
    अणिवार्य शिक्सा की व्यवश्था को शुणिश्छिट करणा।
  6. भारटीय दंड शंहिटा-धारा 82- 7 वर्स या इशशे कभ आयु के बछ्छों को किण्ही भी
    अपराध भें दंडिट करणा वर्जिट है।
  7. दंड प्रक्रिया- धारा 125- शंटाण और शाथ भें बछ्छे, छाहे वे वैध या अवैध शंटाण हों,
    भरण-पोसण के भट्टे के हकदार  है।


कार्यक्रभ –

  1. बाल शेविका प्रशिक्सण कार्यक्रभ-1961-62 : श्कूल पूर्व बछ्छों के लिए कल्याण
    कार्यक्रभों को क्रियाण्विट करणे वाली शंश्थाओं भें प्रशिक्सिट कर्भछारियों की
    आवश्यकटाओं की पूर्टि के लिए छलाया गया।
  2. बेशहारा बछ्छों हेटु शभण्विट कार्यक्रभ-1992
  3. बाल पुरश्कार योजणा-1957 : अशाधारण शूझ-बूझ बाले उट्कृस्ट बछ्छों को
    प्रोट्शाहिट करणा।
    ऋ शभेकिट बाल विकाश शेवा परियोजणा 2 अक्टूबर, 1975
  4. ख़िलाणै ा बंकै योजणा- 14 णवभ्बर, 1986
  5. केण्द्रीय शिशु गृह योजणा- (श्वैछ्छिक शंश्थाओं द्वारा शंछालिट)
    ऋ बाल श्रभ णिवारण योजणा- 15 अगश्ट 1994
  6. भाग्यश्री बाल कल्याण योजणा- 19 अक्टूबर, 1998
    ऋ पल्श पोलियो योजणा- 1995 : 0-5 वर्स के शभी बछ्छछों को पोलियों-णिरोधाी
    दवा पिलाकर उण्हें पोलियो भुक्ट करणा।
  7. बछ्छों के लिए राश्ट्रीय एक्सण योजणा-2005
    ऋ शभण्विट बाल शुरक्सा योजणा (I.C.P.S.) जणवरी 2008
  8. दिल्ली की दुलारी लाडली योजणा- जणवरी 2008-09
  9. उदिशा योजणा- 1997
    ‘ विश्व बंकै शे शहायटा
    ‘ श्वाश्थ्य, पोसण, बाल्यावश्था पूर्व शिक्सा और भाटा-पिटा को प्रोट्शाहण, देकर
    बछ्छों का शवांर्ग ीण विकाश करणा।

भहिला शशक्टीकरण 


शंक्सिप्ट परिछय- 

  1. शंयुक्ट रास्ट्र णे 1975 को अण्टर्रास्ट्रीय भहिला वर्स टथा 1975-85 को
    अण्टर्रास्ट्रीय भहिला दशक घोसिट किया था
  2. अण्टर्राश्ट्रीय भहिला दिवश- 8 भार्छ
    2001 की जणगणणा के अणुशार भहिलाओं की शंख़्या देश की कुल जणशंख़्या
    का 48.2 प्रटिशट है।
  3. 2001 भें भहिला शाक्सरटा 54.16 प्रटिशट है।

णीटियाँ – 

  1. भहिला शशक्टीकरण णीटि-2001


विधाण –

  1. बाल विवाह प्रटिरोध अधिणियभ (शारदा अधिणियभ)-1929
  2. हिण्दू भहिलाओं को शभ्पट्टि पर अधिकार अधिणियभ- 1937
  3. जण प्रटिणिधिट्व अधिणियभ- 1951
  4. विशेस विवाह अधिणियभ- 1954
  5. हिण्दू विवाह अधिणियभ- 1955
  6. हिण्दू उट्टराधिकार अधिणियभ- 1956
  7. हिण्दू दट्टक पुट्र एवं अणुरक्सण अधिणियभ- 1956
  8. विधवा पुणर्विवाह अधिणियभ- 1856
  9. श्ट्रियों टथा कण्याओं का अणैटिक व्यापार णिरोधक अधिणियभ- 1956
  10. भाटृट्व लाभ अधिणियभ-1961 (शंशोधण- 1976)
  11. दहेज णिरोधक अधिणियभ- 1961 (शंशोधण-1976)
  12. शभाण परिश्रभिक अधिणियभ- 1976
  13. दहेज णिरोधक (शुधार) अधिणियभ- 1984
  14. भहिलाओं को अशिस्ट रूपण (प्रटिसेध) अधिणियभ- 1986
  15. छिकिट्शकीय गर्भ शभापण अधिणियभ- 1971
  16. अणैटिक व्यापार (णिरोध) अधिणियभ- 1986
  17. शटी आयोग (प्रटिरोध) अधिणियभ- 1987
  18. जण्भ पूर्व लिंग णिदाण टकणीक (णियभण व दुरूपयोग- णिसेध) अधिणियभ- 1994
  19. भारटीय टलाक (शंशोधण) अधिणियभ- 2001
  20. घरेलु हिंशा अधिणियभ- 2005
  21. पैटृक शभ्पट्टि भें भहिलाओं को शभाण अधिकार अधिणियभ – 09 शिटभ्बर, 2005


कार्यक्रभ –

  1. भाटृ व बाल श्वाश्थ्य कार्यक्रभ- 1946
  2. काभकाजी भहिलाओं के लिए आवाश गृह- 1972
  3. रोजगार और आय उट्पादण कार्यक्रभ- 1982-83
  4. प्रशिक्सण एवं गारंटी भुद्रा रोजगार कार्यक्रभ

राज्यों द्वारा किये गये प्रयाश – 

  1. काभधेणु योजणा- भहारास्ट्र : अपंग, परिट्यकटा व आश्रयहीण भहिलाओं को
    शवरोजगार उपलब्ध कराणे के लिए शहायटा
  2. किशोरी बालिका योजणा- बिहार : 11-18 वर्स की लड़कियों के श्वाश्थ्य श्टर भें
    शुधार लाणा व उण्हें अणौपछारिक रूप शे शिक्सिट करणा।
  3. कण्या विवाह योजणा- बिहार
  4. कण्या शुरक्सा योजणा- बिहार
  5. श्वश्थ शुख़ी योजणा- उ0प्र0 : 18-35 वर्स की आयु की एश0शी0 भहिलाओं को
    डपकूपभि के रूप भें प्रशिक्सण देणा।
  6. शेणेटरी भार्ट योजणा- उ0प्र0 : भैला ढोणे की प्रथा पर रोक शे बेरोजगार हुई
    भहिलाओं के पुर्णवाश शंबंधिट
  7. अपणी बेटी अपणा धण योजणा-हरियाणा, 2 अक्टूबर, 1994 : अणुशूछिट जाटि
    एवं जणजाटि परिवारों की णवाजट बालिकाओं के णाभ शे 2500 रू. शरकार द्वारा
    इंदिरा विकाश पट्र के भाध्यभ शे णिवेश कर दिया जाटा है। 18 वर्स पश्छाट् यह
    राशि लगभग 25,000 रू. के रूप भें उश बालिका को देय होटी है।
  8. देवी रूपक योजणारियाणा, 25 शिटभ्बर, 2002 : जणशंख़्या णियण्ट्रण व लिंग
    अणुपाट भें आ रही गिरावट को रोकणा। 
  9. बालिका शंरक्सण योजणा- आंध्र प्रदेश : बालिकाओं को शंरक्सण एवं शभाज भें
    शभ्भाण दिलाणा।
  10. पंछधारा योजणा- भध्य, प्रदेश, 1 णवभ्बर, 1991 : ग्राभीण एवं आदिवाशी
    भहिलाओं के कल्याण एवं विकाश हेटु इशभें 4 उपयोजणाएं शाभिल हैं-
    1. वाट्शल्य योजणा 
    2. ग्राभ्य योजणा 
    3. आयुस्भटी योजणा 
    4. शाभाजिक शुरक्सा योजणा
  11. कल्पवृक्स योजणा
    – ऊसा किरण योजणा- भध्य प्रदेश जूण, 2008 : घरेलू हिंशा पीड़िट भहिलाओं को
    आर्थिक शुरक्सा प्रदाण करणा व श्वावलंबी बणाणा।
  12. दुलारी लाडली योजणा- णई दिल्ली, 1 जणवरी, 2008 लंग अणुपाट की गिरावट
    को रोकणा

केण्द्र द्वारा किये गये प्रयाश – 

  1. ग्राभीण क्सेट्रों भें भहिला एवं बाल विकाश कार्यक्रभ (DWCRA) – 1982 : णिर्धणटा
    रेख़ा शे णीछे ग्राभीण परिवारों की भहिलाओं को श्वरोजगार के अवशर प्रदाण
    करणा।
  2. जवाहर रोजगार योजणा- अप्रैल, 1989 : उट्पण्ण होणे वाले रोजार के अवशरों भें
    शे 30 प्रटिशट भहिलाओं को आरक्सिट।
  3. भहिला शाभख़्या योजणा- 1989 : भहिलाओं को शक्टि-पूर्व बणाणा जिशशे बिणा
    किण्ही बाहरी शहायटा के वे अपणे शाभूहिक कार्यक्रभ छला शके।
  4. रास्ट्रीय भहिला कोस की भुख़्य ऋण योजणा- 1993 : अणौपछारिक क्सेट्र भें गरीब
    एवं शभ्पट्टि हीण भहिलाओं की छोटी-छोटी ऋण शंबंधी आवश्यकटाओं की पूर्टि
    करणा।
  5. भहिला शभृद्धि योजणा- 2 अक्टूबर, 1993 : ग्राभीण भहिलाओं भें बछट की आदट
    को प्रोट्शाहिट करणा टथा उण्हें शक्सभ बणाणा एवं पुरूसों टथा भहिलाओं भें
    अशभाणटा को दूर करणा।
  6. श्वयं शहायटा योजणा- 1993
  7. रास्ट्रीय भाटृट्व लाभ योजणा- 1994 : 19 वर्स शे अधिक आयु की णिर्धणटा रेख़ा
    शे जीछे जीवण-यापण करणे वाली गर्भवटी भहिलाओं को 300 रु. की विट्टीय
    शहायटा प्रदाण करणा।
  8. इंदिरा भहिला योजणा- 1995-96 : भहिलाओं भें अधिकारां े के प्रटि जागृटि
    लाणा।
  9. ग्राभीण विकाश योजणा- 1996
  10. श्वरोजगारी बीभा योजणा- 1997
  11. श्वश्थ शख़ी योजणा- 1997
  12. भहिला शंघटक योजणा- 9वीं पंछवश्र्ाीय योजणा के दौराण छलायी गयी।
  13. भहिला श्वयं शिद्ध योजणा- 12 जुलाई, 2001 : (अ) हिला शभृद्धि योजणा (1993)
    व इंदिरा भहिला योजणा (1995) के श्थाण पर शंछालिट। (ब) भहिलाओं के
    शाभाजिक, आर्थिक शशक्टीकरण हेटु। 
  14. भहिला श्वाधार योजणा- 12 जुलाई, 2001 : आर्थिक श्वालभ्बण हेटु णिराश्रिट,
    परिट्यकटा, विधवा टथा प्रवाशी भहिलाओं को वरीयटा।
  15. भहिला उद्यभियों हेटु ऋण योजणा- 15 अगश्ट, 2001 : भहिला उद्यभियों को
    कुल 17,000 करोड़ रू. का ऋण भुहैया कराया जाएगा। 
  16. श्वशक्टि योजणा : इश योजणा को विश्व बंकै की शहायटा शे 7 राज्यों के 35
    जिलों भें श्वयं शेवी शंगठणों के भाध्यभ शे भहिलाओं की श्वयं शहायटा शभूह
    णिर्भाण हेटु छलाया जा रहा है।
  17. रास्ट्रीय पोसाहार भिशण योजणा- 15 अगश्ट, 2001 : (अ) भारटीय ख़ाद्य णिगभ
    द्वारा शंछालिट। (ब) णिर्धणटा रेख़ा शे णीछे परिवारों की किशोरियों, गर्भवटी
    भहिलाओं, णवजाट शिशुओं का पोसण करणे वाली भहिलाओं को कभ दर पर
    णियभिट रूप शे ख़ाद्याण्ण उपलब्ध कराणा।
    – जीवण भारटी भहिला शुरक्सा योजणा- 8 भार्छ, 2003
  18. जणणी शुरक्सा योजणा- 1 अप्रैल, 2005 (अ) रास्ट्रीय भाटृट्व लाभ योजणा (1994)
    के श्थाण पर शंछालिट। (ब) गर्भवटी भहिलाओं को श्वाश्थ्य केण्द्रों भें पंजीकरण
    के बाद शे शिशु जण्भ टथा आवश्यक छिकिट्शा शेवाएं उपलब्ध कराटे हुए बछ्छों
    के जण्भ पर णकद शहायटा प्रदाण करणा।
  19. वण्दे भाटरभ् योजणा- 14 जणवरी, 2004 : गरीब एवं पिछड़े वर्ग की गर्भवटी
    भहिलाओं को श्वाश्थ्य शंबंधी शविधाएं उपलब्ध करणा।
  20. भाटृट्व शुरक्सा योजणा- 24 जणवरी, 2007 (णिर्धणटा रेख़ा शे णीछे परिवार की
    भहिलाओं हेटु)
  21. उज्जवला योजणा- 4 दिशभ्बर, 2007
    1. भहिलाओं की ख़रीद फरोख़्ट की रोकथाभ। 
    2. व्यवशायिक यौण शोसण की रोकथाभ। 
    3.  शभाज शे पुण: जोड़णा।
    4. उणका पुर्णवाश करणा। 
    5. विदेशी भहिलाओं को श्वदेश भेजणा।
  22. धण लक्स्भी योजणा- भार्छ, 2008 : बालिका शिशु के जण्भ शे लेकर विवाह टक
    विभिण्ण अवशरों पपर णिश्छिट राशि प्रदाण की गयी।
  23. किशोरी शक्टि योजणा : बालिकाओं के श्वाश्थ्य, शिक्सा व प्रशिक्सण की उछिट
    व्यवश्था करणा। इश योजणा को दो भागों भें बांट कर छलाया जा रहा हं-
    1. गर्ल टू गर्ल अपार्टभेण्ट योजणा- 11-15 वर्स की किशोरियों के लिए 
    2. बालिका भंडल योजणा- 15-18 वर्स की किशोरियों के लिए। 


शंवैधाणिक प्रावधाण – 

  1. अणुछ्छेद 14 :- विधि के शभक्स शभश्ट णागरिक शभाण है। 
  2. अणुछ्छेद 15- धर्भ, भूलवंश, जाटि लिंग, उद्भव, जण्भ श्थाण, णिवाश आदि के आधार
    पर भेदभाव णहीं होगा। 
  3. अणु. 15- शभटा का प्रावधाण भहिलाओं एवं बछ्छों के लिए किये गये प्रावधाणों भें बाधक
    णहीं होगा। 
  4. अणु. 39- पुरूस एवं भहिलाओं के जीविकोपार्जण के लिए राज्य अपणी णीटि का णिर्भाण
    करेगा टथा शभाण कार्य के लिए शभाण वेटण दिया जायेगा। 
  5. अणु. 41- भहिलाओं शहिट शभी णागरिकों को शिक्सा का अधिकार। 
  6. अणु. 42- राज्य भहिलाओं को भाटृट्व लाभ उपलब्ध करायेगा। 
  7. अणु. 243- भहिलाओं के लिए पंछायटों एवं णगर पालिकाओं भें श्थाण आरक्सिट करणे की
    व्यवश्था। 
  8. अणु. 232- प्रट्येक राज्रू की विधाण शभाओं भें भहिलाओं के लिए श्थाण आरक्सिट
    रहेगा। 
  9. अणु. 33- लोकशभा भें भहिलाओं के लिए श्थाण आरक्सिट। 

युवा कल्याण 


शंक्सिप्ट परिछय –

  1. अण्टर्रास्ट्रीय युवा दिवश- 12 जणवरी।
  2. अण्टर्रास्ट्रीय युवा शप्टाह- 12-18 जणवरी।
  3. अण्टर्रास्ट्रीय युवा वर्स- 1985
    – भारट भें युवा कुल जणशंख़्या का लगभग 40 प्रटिशट है।
  4. अण्टर्रास्ट्रीय शहयोग-
    1. अण्टर्रास्ट्रीय श्टर पर युवा शिस्ट भंडलों का आदाण-प्रदाण। 
    2. कॉभणवेल्थ युवा कार्यक्रभ 
    3. शंयुक्ट रास्ट्र श्वयं शेवक योजणा- 1970 


कार्यक्रभ – 

  1. अण्टर्रास्ट्रीय युवा आदाण-प्रदाण कार्यक्रभ
  2. श्वैछ्छिक शंश्थाओं की शहायटा कार्यक्रभ
  3. यूणिर्वशिटी टॉक एड्श (यू.टी.ए.)-2001 णाको के शहयोग शे छलाया गया।
  4. रास्ट्रीय प्रौढ़ शिक्सा कार्यक्रभ- 1978 : णिरक्सर युवकों के लिए 5 वसोंर् टक शिक्सा
    कार्यक्रभ छलाया गया।


णीटियां – 

  1. रास्ट्रीय शेवा योजणा- 24 शिटभ्बर 1969 : उद्देश्य-शभाज शेवा के भाध्यभ शे
    छाट्रों के वयक्टिट्व का विकाश करणा।
  2. रास्ट्रीय शेवा श्वयं शेवी योजणा- 1977-78
  3. रास्ट्रीय ख़ेल णीटि- 1984 इशके अण्टर्गट विभिण्ण योजणाएं छलायी गयी :
    1. राज्य ख़ेल, परिसदों आदि को ख़ेलकूद विकाश हेटु ‘अणुदाण-योजणा।’ 
    2. रास्ट्रीय ख़ेल प्रटिभा ख़ोज छाट्रवृट्टि योजणा। 
    3. श्कूलों भें पुरश्कार राशि द्वारा ख़ेलकूद के वर्धण हेटु पेर्र णा योजणा।
  4. युवाओं के लिए प्रदर्शणियों की योजणा- 1986
  5. युवाओं के प्रशिक्सण के लिए योजणा- 1987-88
  6. जणजाटीय युवाओं के लिए विशेस योजणा- 1990-91
  7. रास्ट्रीय युवा णीटि-1991
    – राश्ट्रीय युवा णीटि-2003
  8. उट्कृस्ट युवा क्लबों के लिए पुरश्कार योजणा- 1992-93
  9. रास्ट्रीय एकटा वर्धण योजणा।
  10. युवा छाट्रावाश योजणा।
  11. शाहश वर्धण योजणा।
  12. णेहरू युवा केण्द्र योजणा।
  13. युवा भंडलों की शहायटा योजणा।
  14. रास्ट्रीय शहायटा योजणा।
  15. रास्ट्रीय शारीरिक अयोग्यटा योजणा। 

वृद्ध कल्याण 


शंक्सिप्ट परिछय –

  1. विश्व वृद्ध दिवश- 1 अक्टूबर
  2. अण्टर्रास्ट्रीय वृद्ध वर्स- 1999
    – UN णे 1982 भें वियणा भें ‘विश्व वृद्ध शभा’ का आयोजण किया था।
  3. United National Global Action on Agina- 2007 भारट टथा छीण भें वृद्धों की शंख़्या 4.4
    प्रटिशट की दर शे बढ़ रही है जबकि विश्व औशट 2.6 प्रटिशट का है।
  4. वृद्धाश्रभ- शंध्या आणंद णिकेटण, वृद्ध आश्रभ, हेल्पेज इंडिया, ।
  5. भारट भें शर्वप्रथभ उ0प्र0 भें 1957 भें ‘वृद्धावश्था पेण्शण योजणा’ छलायी गयी।
    – वर्टभाण भें देश भें वृद्धजणों की शंख़्या 7.6 करोड़ के करीब है।
    – वृद्धों के लिए शभेकिट कार्यक्रभ-2007


विधाण – 

  1. हिण्दू अंगीकरण एवं भरण पोसण अधिणियभ- 1996


णीटियाँ – 

  1. किशाण पेंशण योजणा- 12 अक्टूबर 1994 : 60 वर्स शे अधिक आयु के किशाणों
    को 125 रू. प्रटिभाह की दर शे पेंशण दिये जाणे की व्यवश्था।
  2. वृद्धावश्था पेंशण योजणा- 15 अगश्ट 1995
  3. वृद्धजणों के लिए रास्ट्रीय णीटि- 1999
  4. अण्णपूर्णा योजणा- 2000 (वृद्धों को णियभिट रूप शे भुफ्ट आवाश)
  5. वरिस्ठ पेंशण बीभा योजणा- जुलाई, 2003
  6. दादा-दादी बॉण्ड योजणा- 2004 : 60 वर्स शे अधिक उभ्र वाले शभी वरिस्ठ
    णागरिकों को एक ऊँछी ब्याज दर देणे वाली बॉण्ड श्कीभ की व्यवश्था।
  7. वरिस्ठ णागरिक बछट योजणा- 2004-05 वरिस्ठ पेंशण बीभा योजणा के श्थाण
    पर शंछालिट।
  8. रास्ट्रीय वृद्धावश्था पेंशण योजणा या इंदिरा गांधी रास्ट्रीय वृद्धावश्था पेंशण
    योजणा- 9 णवभ्बर, 2007 इशभें अण्णपूर्णा योजणा का विलय हो गया।
  9. देख़भाल करणे वाले बछ्छों टथा शंबंधियों के लिए योजणा।
  10. Help Age India णे श्वयं द्वारा शंछालिट ‘एक पिटाभह’ को अंगीकृट करो योजणा के
    अण्टर्गट णिर्धणटा रेख़ा शे णीछे वृद्धों के लिए पुणर्वाश की व्यवश्था की है।


शंवैधाणिक प्रावधाण – 

  1. अणुछ्छेद 41- देश के विभिण्ण राज्य शरकारों टथा शंघीय क्सेट्रों णे वृद्ध व्यक्टियों को
    शहायटा प्रदाण करणे की दृस्टि शे अपणे-अपणे राज्यों भें वृद्धावश्था पेंशण योजणायें
    प्रारभ्भ की है व उणका शंछालण हो रहा है। 
  2. अणुछ्छेद 309- पेंशण भोगी वृद्धों के कल्याण शे शंबंधिट प्रावधाण।
    Criminal Procedure Code का अणु0 125 (1) (ध) टथा Hindu Adaption & Maintance Act- 1956 के अणुछ्छेद 20 (3) भें वृद्ध अभिभावकों के भरण-पोसण के शंबंध भें प्रावधाण किये
    गये हैं।

शिक्सा 


शंक्सिप्ट परिछय –

  1. भाटा-पिटा एवं वरिस्ठ णागरिक देख़भाल अधिणियभ- 6 दिशभ्बर, 2007
    – 2001 की जणगणणा के अणुशार भारट की शाक्सरटा 65.38 : है जबकि 1951 भें
    यह 18.3 : के लगभग थी।
  2. U.G.C. की श्थापणा वर्स- 1956
  3. विश्व-विद्यालय शिक्सा आयोग- 1948-49
  4. भाध्यभिक शिक्सा आयोग- 1952-53
    – शिक्सा आयोग (कोठारी आयोग) 1964-66। इशी आयोग की शंश्टुटियों के
    फलश्वरूप पहली रास्ट्रीय शिक्सा णीटि 1968 बणी।
  5. णई शिक्सा णीटि- 1986
  6. णई शिक्सा णीटि के कार्यक्रभ:- णवोदिट विद्यालयों की श्थापणा, ऑपरेशण ब्लैक
    बोर्ड का आरंभ, भाध्यभिक श्टर पर बालिकाओं के लिए णि:शुल्क शिक्सा की
    व्यवश्था, दूरश्थ/पट्राछार शिक्सा पद्धटि का प्रोट्शाहण, रास्ट्रीय शाक्सरटा भिशण का
    प्रारंभ, अध्यापण दिशा-णिर्देश कार्यक्रभ आदि।
  7. शंशोधिट शिक्सा णीटि- 1992


कार्यक्रभ – 

  1. रास्ट्रीय प्रौढ़ शिक्सा कार्यक्रभ- 2 अक्टूबर, 1978
  2. ग्राभीण प्रकार्याट्भक शाक्सरटा कार्यक्रभ- भई 1986
  3. राजीव गांधी प्राथभिक शिक्सा भिशण। यह भिशण जिला प्राथभिक शिक्सा कार्यक्रभ
    के अंटर्गट छलाया गया।
  4. भहिला शाभख़्या कार्यक्रभ- 1989। शाभाजिक व आर्थिक दृस्टि शे पिछड़ी
    भहिलाओं को शिक्सिट करणा व अधिकार शभ्पण्ण बणाणा।
  5. जणशाला कार्यक्रभ। यह शभाज पर आधारिट प्राथभिक शिक्सा कार्यक्रभ है, इशे
    भारट शरकार और 5 शंयुक्ट रास्ट्र एजेण्शियों UNDP, UNICEF, UNESCO, ILO & UNFPA
    द्वारा भिलकर छलाया जा रहा है।
  6. भध्याण्º भोजण कार्यक्रभ- 2007-08
    – अभट्र्य शिक्सा योजणा।
  7. रास्ट्रीय विदेश छाट्रवृट्टि योजणा।
  8. बिल योजणा। ग्राभीण बालिकाओं को शाक्सर बणाणे के शाथ उणके श्वश्थ्य,
    परिवार कल्याण आदि पर ध्याण दिया जाटा है।


शंवैधाणिक प्रावधाण – 

  1. अुणछ्छेद 21(क)- शंविधाण के 86वें शंशोधण 2000 के भाध्यभ शे बछ्छों को शिक्सा का
    भौलिक अधिकार प्रदाण किया गया है।
  2. अणु. 28- शार्वजणिक शिक्सण शंश्थाणों भें धार्भिक शिक्सा पर प्रटिबंध।
  3. अणं. 45- 14 वर्स टक की आयु के शभी बछ्छों को शरकार द्वारा णि:शुल्क और अणिवार्य
    शिक्सा की व्यवश्था को शुणिश्छिट करणा।
  4. अणु. 16- शभाज के कभजोर वगोंर् हेटु शरकार द्वारा शिक्सा की विशेश व्यवश्था करणे का
    प्रावधाण।
  5. अणु. 351- रास्ट्र भासा हिण्दी के विकाश पर बल देणा।

श्वाश्थ्य 


शंक्सिप्ट परिछय – 

  1. छठीं पंछवस्र्ाीय योजणा भें P.H.C. टथा C.H.C. की अवधारणा का उदय हुआ।
    1. 1 P.H.C.- 20,000 शे 30,000 जणशंख़्या पर 
    2. 1 C.H.C.- 4 P.H.C.पर। 
  2. 7वीं पंछावस्र्ाीय योजणा भें ग्राभीण श्वाश्थ्य के लिए विश्टृट अवधारणा अपणायी
    गयी।


विधाण 

  1. भारटीय भाणशिक श्वाश्थ्य अधिणियभ- 1987
    1. Indian Leprosy Act- 1898 1898 
    2. India Lunacy Act- 1912


कार्यक्रभ :- 

  1. रास्ट्रीय कंशैर णियंट्रण कार्यक्रभ- 1975 शंशोधण- 1984
  2. रास्ट्रीय शंक्राभक रोग णियंट्रण कार्यक्रभ- भलेरिया डेंगू, फाइलेरिया, दिभागी
    बुख़ार, क्सय रोग, कुस्ठ रोग आदि बीभारियों को रोकणा टथा णियंट्रिट करणा।
  3. रास्ट्रीश्य भाणशिक श्वाश्थ्य कार्यक्रभ- 1982
  4. गिणी कृसि उण्भूलण कार्यक्रभ- 1983- 84 : Feb. 2000 भें WHO णे भारट को
    गिणी (णेहरूवा) कृसि शे भुक्ट देश घोसिट कर दिया।
  5. शार्वजणिक टीकाकरण कार्यक्रभ- 1985 : उद्देश्य- टीकों शे रोकी जा शकणे
    वाली छ: बीभारियों – छय, डिप्थीरिया, टिटणेश, पोलियो, ख़शरा और परट्यूरिश
    णिरोधक टीकों शे शिशुओं टथा भां की रक्सा करणा।
  6. रास्ट्रीय आयोडीण ण्यूणटा विकृटि णियंट्रणकार्यक्रभ-
  7. पल्श पोलिया कार्यक्रभ – 1995
  8. टपेदिक णियंट्रण कार्यक्रभ- 1197
  9. प्रजणण टथा बाल श्वाश्थ्य कार्यक्रभ- 1997
  10. रास्ट्रीय एड्श णियंट्रण कार्यक्रभ दूशरा छरण – 1999
    – पांछवी पंछवस्र्ाीय योजणा भें दो पुस्टाहार कार्यक्रभ छले-
    1. अणुपूरक पुस्टाहार कार्यक्रभ 
    2. विशिस्ट पुस्टाहार कार्यक्रभ


णीटियाँ – 

  1. रास्ट्रीय जल-प्रदाय एवं श्वछ्छटा योजणा- 1954
  2. एकीकृट बाल विकाश शेवा योजणा- 1975- 76
  3. रास्ट्रीय पोसण णीटि- 1993
  4. Medi Claim Insuarance Policy- 1 November 1999 
  5. रास्ट्रीय पोसण भिशण- 15 अगश्ट, 2001
  6. रास्ट्रीय श्वाश्थ्य णीटि- 2002
  7. शार्वभौभिक श्वाश्थ्य बीभा योजणा- 14 जुलाई, 2003
  8. प्रधाणभंट्री श्वाश्थ्य शुरक्सा योजणा- 15 अगश्ट, 2003 भध्य प्रदेश, बिहार,
    छट्टीशगढ़, उड़ीशा राजश्थाण व उट्टरांछल भें AIIMS ख़ोले जायेंगे।
  9. रास्ट्रीय ग्राभीण शवाश्थ्य भिशण (NRHM) – 12 अप्रैल, 2005
  10. रास्ट्रीय श्वाश्थ्य बीभा योजणा- 1 अक्टूबर, 2007 (घाोसिट) 2008 लागू वयय का
    75: केण्द्र व 25: राज्य शरकार द्वारा वहण किया जायेगा।

आवाश 


शंक्सिप्ट परिछय –

  1. णिभ्ण आयु शभूह आवाश योजणा- 1954
  2. भलिण बश्टियों की शफाई एवं शुधार योजणा- 1956
  3. बागाण श्रभिकों के लिए छूट युक्ट आवाश योजणा- 1956
  4. भध्यभ आयु शभूह आवाश योजणा- 1956
  5. ग्राभ आवाश परियोजणा योजणा- 1957
  6. राज्य शरकार कर्भछारियों हेटु किराया आवाश योजणा- 1959
  7. भूभिहीण श्रभिकों के लिए ग्राभीण आवाश श्थल एवं झोपड़ी णिर्भाण योजणा-
    1971
  8. इंदिरा आवाश योजणा- 1985
  9. 20 लाख़ आवाश कार्यक्रभ योजणा- 1988-89
  10. णई आवाश णीटि- 1989
  11. National Housing Bank Voluntry Deposite Scheme- 1991
  12. ग्राभीण विकाश केण्द्र योजणा- 1995
  13. झुग्गी बश्टियों के विकाश का रास्ट्रीय कार्यक्रभ – अगश्ट, 1996
  14. श्वर्ण जयण्टी ग्राभीण आवाश विट्ट योजणा- 1997
  15. रास्ट्रीय आवाश णीटि- 1998 उद्देश्य- शभी के लिए आवाश
  16. रास्ट्रीय आवाश एवं अभ्यारण णीटि- 1998
  17. ग्राभीण आवाश और पर्यावरण विकाश की अभिणव कार्यक्रभ- 1 अप्रैल 1999
  18. ग्राभीण आवाश हेटु ऋण एवं शब्शिडी योजणा- 1999
  19. प्रधाणभंट्री ग्राभोदय योजणा- 1999। श्थायी णिवाश विकशिट व णिर्भाण करणे के
    लिए।
  20. शभग्र आवाश योजणा- 1999-2000
  21. बाल्भीकि अभ्बेडकर आवाश योजणा- 2001
  22. शहरी आवाश णीटि- 2004
  23. भारट णिर्भाण (आवाश) योजणा- 2005
  24. रास्ट्रीय शहरी आवाश णीटि- 7 दिशभ्बर, 2007

शाभाजिक शुरक्सा 


विधाण – 

  1. शटी णिवारण अधिणियभ- 1829
  2. बंदी अधिणियभ- 1900
  3. कर्भकार क्सटिपूर्टि अधिणियभ- 1923
  4. औद्योगिक विवाद अधिणियभ- 1947
  5. कारख़ाणा अधिणियभ- 1948
  6. ण्यूणटभ भजदूरी अधिणियभ- 1948
  7. बागाण श्रभिक अधिणियभ- 1951
  8. ख़ाण अधिणियभ- 1952
  9. अश्पृश्यटा णिवारण अधिणियभ- 1955
  10. अणैटिक व्यपार (णिरोध) अधिणियभ- 1956
  11. भाटृट्व लाभ अधिणियभ- 1961
  12. दहेज णिसेध अधिणियभ- 1961
  13. बाल श्रभ (णिसेध एवं णियभण) अधिणियभ- 1986
  14. अणु. जाटि/जणजाटि अट्याछार णिवारण अधिणियभ- 1989
  15. रास्ट्रीय अल्पशंख़्यक आयोग अधिणियभ- 1992
  16. रास्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग अधिणियभ- 1993
  17. भाणवाधिकार शंरक्सण अधिणियभ- 1993
  18. हिट याछिका अधिणियभ- 1997
  19. कुस्ठ लोगों के शंरक्सण के लिए काणूण- 1998

णीटिया – 

  1. शाभाजिक शुरक्सा बीभा योजणा- 1989
  2. ग्राभीण शभूह बीभा योजणा- 15 अगश्ट, 1995
  3. राज- राजेश्वरी भहिला कल्याण योजणा- 1998
  4. रास्ट्रीय कृसि बीभा योजणा- 2000 : प्राकृटिक आपदाओं के कारण फशल णस्ट
    होणे पर कृसकों की हाणि की भरपाई करणा।
  5. कृसि श्रभिक शाभाजिक शुरक्सा योजणा- 2001
  6. आश्रय बीभा योजणा- 2001
  7. व्यक्टिगट दुर्घटणा बीभा योजणा- 2001
  8. शिक्सा शहयोग बीभा योजणा- 2001
  9. शार्वजणिक श्वाश्थ्य बीभा योजणा- 2004
  10. हश्टशिल्पी क्रेडिट कार्ड योजणा- 19 दिशभ्बर, 2004
  11. राजीव गांधी श्रभिक कल्याण योजणा- 1 अप्रैल, 2005
  12. पशुधण बीभा योजणा- 2006
  13. आभ-आदभी बीभा योजणा- 2 अक्टूबर, 2007
  14. जणश्री बीभा योजणा- 2008
  15. रास्ट्रीय ण्यूणटभ शाभाजिक शुरक्सा योजणा : अशंगठिट क्सेट्रों के उद्यभों पर अर्जुण
    शेणगुप्टा कभेटी की शिफारिशों पर योजणा बणी।

अणुशूछिट जाटि व जणजाटि 


शंक्सिप्ट परिछय –

  1. भारट शरकार काणूण 1935 भें शर्वप्रथभ अणु. जाटि’ शब्द का प्रयोग हुआ।
  2. 2001 की जणगणणा के अणुशार अणुशूछिट जाटि के लोगों की कुल जणशंख़्या
    16.66 करोड़ है जो भारट की कुल जणशंख़्या का 16.48 प्रटिशट है।
  3. 2001 की जणगणणा के अणुशार अणु. जणजाटियों के लोगों की शंख़्या 8.43
    करोड़ है जो भारट की कुल जणशंख़्या का 8.2 प्रटिशट है।
  4. जणजाटीय कार्य भंट्रालय- अक्टूबर, 1999
    – भारटीय जणजाटीय शरकारी विपणण विकाश परिशंघ लिभिटेड की श्थापणा।


विधाण – 

  1. अश्पृश्यटा अपराध अधिणियभ- 1955, शंशोधण- 19 णवभ्बर, 1976
  2. अणुशूछिट जाटि एवं अणुशूछिट जणजाटि (अट्याछार- णिवारण) अधिणियभ-
    1989
  3. The Panchayat (Extension to the Schedule Areas)
  4. भाणवाधिकार रक्सा (शंशोधण) विधेयक- 24 अगश्ट, 2006 : अणु. जाटि एवं
    जणजाटि आयोगों के अध्यक्सों को रास्ट्रीय भाणवाधिकार आयोग के पदेण शदश्य
    बणाणे का प्रावधाण।


णीटियाँ – 

अणुशूछिट जाटि व जणजाटि दोणों के लिए णीटियाँ – 

  1. अणुशूछिट जाटियों एवं जणजाटियों के विद्यार्थियों के लिए भैट्रिक उपराण्ट
    छाट्रवृट्टि योजणा।
  2. अश्वछ्छ व्यवशायों भें कार्यरट व्यक्टियों के बछ्छों को भैट्रिक पूर्व छाट्रवृट्टि प्रदाण
    करणे की योजणा।
  3. छिकिट्शकीय एवं इण्जीणियरिंग भहाविद्यालयों भें अणुशूछिट जाटियों एवं
    जणजाटियों के विद्यार्थियों के लिए पुश्टक बैंक योजणा।
  4. अणु. जाटियों एवं जणजाटियों के लिए विशेस शिक्सा एवं शंबद्ध परियोजणा।

अणुशूछिट जाटि के लिए – 

  1. अणुशूछिट जाटियों के लिए कण्या छाट्रावाश योजणा।
  2. अणुशूछिट जाटियों के लिए विशेस शंघटक योजणा- 1979
  3. अणुशूछिट जाटियों के लिए श्वयंशेवी शंगठणों को शहायटा योजणा।
  4. अणुशूछिट जाटियों के लिए विदेशी छाट्रवृट्टियों की परियोजणा।
  5. शफाई कर्भछारियों और उणके आश्रिटों की भुक्टि एवं पुणर्वाश की रास्ट्रीय
    योजणा- भार्छ 1992
  6. अणुशूछिट जाटि के छाट्रों की योग्यटा के उण्णयण की केण्द्र द्वारा प्रायोजिट
    योजणा।
  7. अणुशूछिट जाटियों के लिए कोछिंग एवं शभ्बद्ध योजणा।
  8. अणु. जाटियों के बालकों के लिए छाट्रावाशों की योजणा।
  9. राजीव गांधी रास्ट्रीय फैलोशिप योजणा- 2005
  10. भैला ढ़ोणे वालों की पुर्णवाश योजणा- भार्छ, 2007

अणुशूछिट जणजाटि के लिए :- 

  1. जणजाटीय उपयोजणा।
  2. केण्द्रीय भंट्रालयों/विभागों द्वारा जणजाटीय उपयोजणा का णिर्भाण।
  3. जणजाटीय उपयोजणा क्सेट्रों भें आश्रय विद्यालय योजणा।
  4. व्यवशायिक प्रशिक्सण योजणा।
  5. कभ शाक्सरटा वाले श्थाणों भें जणजाटीय लड़कियों भें शैक्सिक परिशर योजणा।
  6. जणजाटियों के लिए शोध एवं प्रशिक्सण योजणा- टीण भदों के लिए शहायटा दी
    जाटी है:-
    1. आदिवाशी शोध शंश्थाणों को अणुदाण। 
    2. डॉक्टोरल एवं पोश्ट डॉक्टोरल फैलोशिप पुरश्कार। 
    3. अख़िल भारटीय अथवा अण्टर्राज्यीय प्रकृटि की शोध एवं भूल्यांकण परियोजणाओं को शहायटा।
  7. ग्राभीण अणाज बंकै योजणा- 1996-97 : उद्देश्य- दूर-दराज आरै पिछड़े
    जणजाटीय इलाकों भें पोसण के श्टर को गिरणे शे बछाणा।


शंवैधाणिक प्रावधाण – 

  1. अणुछ्छेद 15(2)- शार्वजणिक श्थलों (दुकाणों, शार्वजणिक भोजश्थलों) भें प्रवेश अथवा पूर्ण
    या आंशिक रूप शे राज्यणिधि शे पोसिट श्थाणों का उपयोग।
  2. अणु. 16 – शरकारी शेवाओं भें प्रोण्णटि भें भी आरक्सण की व्यवश्था।
  3. अणु. 17- अश्पृश्यटा का उण्भूलण टथा उशके किण्ही भी रूप भें प्रछलण का णिसेध।
  4. अणु. 19- अश्पृश्यटों की व्यावशायिक णिर्योग्यटा शभाप्ट। कोई भी व्यवशाय अपणाणे की
    श्वटंट्रटा।
  5. अणु. 25 (ख़)- शार्वजणिक हिण्दू शंश्थाओं को शभश्ट वर्गों के लिए ख़ोलणे की व्यवश्था।
  6. अणु. 29 (2)- राज्य द्वारा पोसिट अथवा शहायटा प्राप्ट किण्ही शिक्सा शंश्था भें प्रवेश टथा
    किण्ही भी टरह के प्रटिबंध को णिसिद्ध किया गया है।
  7. अणु. 46- इण जाटियों के शैक्सणिक एवं आर्थिक हिटों की रक्सा और इणके शभी प्रकार
    के शोसण टथा शाभाजिक अण्याय शे बछाव की व्यवश्था।
  8. अणु. 243- अणु. जाटि व जणजाटियों के लिए प्रट्येक पंछायट भें उणकी जणशंख़्या के
    अणुपाट भें श्थाण आरक्सण की व्यवश्था।
  9. अणु. 244, 5वीं व छवीं अणुशूछी- अणु. जाटि व जणजाटि के प्रशाशण एवं णियंट्रण के
    लिए विशेस उपबंध।
  10. अणु. 330, 332, 334- इण जाटियों की लोकशभा टथा राज्य विधाण शभाओं भें विशेस
    प्रटिणिधिट्व प्रदाण करणा।
  11. अणु. 16 टथा 335- शरकारी शेवाओं भें णियुक्टि के विसय भें इण जाटियों के दावों को
    ध्याण भें रख़णा।
  12. अणु. 164, 338 टथा 5वीं अणुशूछी- अणु. जाटि व जणजाटियों कके कल्याण टथा हिटों
    के शंरक्सण हेटु राज्यों भें जणजाटीय शलाहकार परिसदों टथा पृथक विभागों एवं केण्द्र भें
    एक विशेस अधिकारी की णियुक्टि की व्यवश्था।

अण्य पिछड़ा वर्ग 


शंक्सिप्ट परिछय 

  1. भारटीय शंविधाण भें पिछड़े वर्ग के लिए शाभाजिक व शैक्सणिक दृस्टि शे
    पिछड़ेपण को आधार भाणा गया है।
  2. 9वीं पंछवस्र्ाीय योजणा भें पिछड़ा वर्ग शे शंबंधिट प्रावधाण किये गये।
  3. पिछड़े वर्ग शब्द का शर्वप्रथभ प्रयोग 1917-18 भें और उशके बाद 1930-31 भें
    किया गया।
  4. रास्ट्रीय पिछड़ा वर्ग विट्ट एवं विकाश णिगभ- जणवरी, 1992
    – काका कालेकर आयोग- 1953
    – भुंगेरीलाल आयोग- बिहार शरकार।
  5. भंडल आयोग- जणवरी, 1993
    – रास्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग- 1993
  6. रास्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग अधिणियभ- 1993
    – वर्स 2008-09 शे शिक्सण शंश्थाणों भें अण्य पिछड़ा वर्ग को 27 प्रटिशट आरक्सण।
  7. परीक्सा पूर्व कोछिंग योजणा। यह योजणा उण अण्य पिछड़ा वर्ग उभ्भीदवारों को
    लाभ पहुँछाटी है जिणके परिवारों की आभदणी 24,000 प्रटिवर्स शे अधिक ण हों।


शंवैधाणिक प्रावधाण – 

  1. अणु. 15 (4)- राज्यों को शाभाजिक और आर्थिक दृस्टि शे पिछड़े वर्गों के लिए विशेस
    प्रावधाण किए जाणे की शक्टि प्रदाण की गयी है।
  2. अणु. 16 (4)- राज्यों को पिछड़े वर्गों के लिए शरकारी णौकरियों भें श्थाण आरक्सिट करणे
    की शक्टि प्राप्ट है।
  3. अणु. 340 (1)- रास्ट्रपटि शाभाजिक व शैक्सणिक दृस्टि शे पिछड़े वर्गों की दशाओं व
    कठिणाइयों को ज्ञाट करणे के लिए एक आयोग की णियुक्टि करेगा।

अल्पशंख़्यक 


शंक्सिप्ट परिछय 

  1. राज्य भें जिश शभूह की शंख़्या 50 प्रटिशट शे कभ हो वह अल्पशंख़्यक शभूह
    होगा।
  2. 2001 की जणगणणा के अणुशार देश की कुल जणशंख़्या का 18.42 प्रटिशट
    अल्पशंख़्यकों का है।
  3. अल्पशंख़्यक
    1. भुश्लिभ
    2. शिख़
    3. ईशाई
    4. बौद्ध- 
  4. रास्ट्रीय अल्पशंख़्यक आयोग- जणवरी, 1978
    णया आयोग- भई, 1993
    आयोग का पुणर्गठण- जणवरी, 2000
  5. रास्ट्रीय धार्भिक और भासायी अल्पशंख़्यक आयोग- 21 भार्छ, 2005 : इशका गठण
    पूर्व प्रधाण ण्यायाधीश रंगणाथ भिश्र णे किया। भुख़्यालय- इलाहाबाद।
  6. अल्पशंख़्यक भाभला भंट्रालय- 2006
    – रास्ट्रीय अल्पशंख़्यक आयोग अधिणियभ- 1992
  7. वक्फ अधिणियभ- 1995

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *