रंगभेद का अर्थ और णीटि


रंगभेद
Apartheid शब्द अंग्रेजी भासा के ‘Apart’ एवं Hood शब्दों शे भिलकर बणा है इशका
व्यावहारिक रूप शे शरल अर्थ ‘रंगभेद’ भाणा जा शकटा है। इशे ‘वर्ण पृथक्करण’ की णीटि भी
कहा जा शकटा है। दक्सिण अफ्रीका के उपणिवेशकाल भें प्रजाटि पृथक्करण की णीटि प्रारंभ हुई और
20वीं शदी के भध्य टक यह कायभ रही। शण् 1948 भें आभ छुणाव के पश्छाट् दक्सिण अफ्रीका की
णेशणल पार्टी की शरकार णे वहां पर रहणे वाले णिवाशियों को राजणैटिक, भौगोलिक, शाभाजिक,
शांश्कृटिक, आर्थिक एवं णश्लीय आधार पर श्वेट, अश्वेट, भिश्रिट वर्ण और इंडियण्श आदि वर्गों भें
विभाजिट करटे हुये एक णवीण णीटि का आरंभ किया जिशे ‘रंगभेद(Apartheid) की णीटि कहा
जाटा है। यह प्रणाली दक्सिण अफ्रीका भें शण् 1948 शे लेकर 1994 टक अश्टिट्व भें रही। इशे
णीटिगट आधार पर बाद भें Grand Apartheid एवं Petty Apartheid के रूप भें विभाजिट
किया गया है।

रंगभेद की णीटि

शण् 1948 के आभ छुणाव भें णेशणल पार्टी को अट्यंट शाधारण बहुभट प्राप्ट हुआ।
उशणे एक अण्य राजणैटिक पार्टी के शाथ गठबंधण करके शरकार का गठण किया। णेशणल पार्टी णे
शट्टा भें आटे ही रंगभेद की णीटि को प्रश्टुट किया और अभलीजाभा पहणाणा प्रारंभ कर दिया। वर्णर
ऐशेलीण णाभक व्यक्टि को इश प्रणाली का ढ़ांछा टैयार करणे के लिए णियुक्ट किया गया। जिशणे
पूर्व भें श्वेट-श्रेस्ठटा के णिभिट्ट दक्सिण अफ्रीका के राजणैटिक विभाजण का शुझाव दिया था। इश
टरह यह णीटि अपणे प्रारंभिक काल भें ही विवादाश्पद हो गई थी। रंगभेद णीटि के विकाश भें
शर्वाधिक योगदाण हैण्ड्रिक फ्रैंछ वरवोएर्ड का भाणा जाटा है जो कि उश शभय शर्वोछ्छ प्रभावशाली
णेटा था। रंगभेद णीटि के क्रियाण्वयण के टारटभ्य भें शर्वप्रथभ डेणियल फ्रेंकोईश भालण जो कि
रंगभेद णीटि का शभर्थक था और प्रथभ प्रधाणभंट्री बणा था णे, 1950 भें शभूह क्सेट्र अधिणियभ
(Group Areas Act) णाभक काणूण पारिट किया जो कि आगे छलकर रंगभेद प्रणाली का का
केण्द्र बिण्दु बण गया। इश काणूण णे दक्सिण अफ्रीका भें प्रट्येक व्यक्टि को णश्लीय रूप शे परिभासिट
किया। इश काणूण के द्वारा अफ्रीका के णिवाशियों को भौगोलिक टौर पर विभाजिट कर दिया गया।
रंगभेद णीटि के टहट 1953 भें श्पृथक-शिस्टाछार अधिणियभश् पारिट किया गया

जिशके द्वारा अलग-अलग वर्णों के लोगों के लिए अलग-अलग व्यवहार क्सेट्र आरक्सिट कर दिये
गये। इश काणूण णे ख़ेल के भैदाणों, बशों, अश्पटालों, श्कूलों, विश्वविद्यालयों यहां टक कि पार्क की
बैंछों और शभुद्र टटों का भी वर्गीकरण कर दिया। शार्वजणिक श्थाणों पर श्व्दशल विट ॅीपजभेश्
अथवा श्व्दशल विट ठशंबोश् के णोटिश बोर्ड लगे रहणा एक अट्यण्ट शाभाण्य बाट हो गई थी।
श्वेट लोगो के क्सेट्र की ओर पलायण रोकणे के लिए अश्वेटो एवं अण्य णश्ल के लोगो के लिए
श्विशेस पहछाणश् पट्र आवश्यक कर दिये गये। भिश्रिट वर्ण के लोगो को भटाधिकार शे वंछिट करणे
के लिए 1951 भें शंशद भें एक अधिणियभ प्रश्टुट किया गया। किण्टु कटिपय लोगो के द्वारा इशे
ण्यायालय भें छुणौटी देणे एवं ण्यायालय द्वारा इशे अवैध घोसिट करणे के उपरांट आणण-फाणण भें
णेशणलिश्ट शरकार के द्वारा ण्यायपालिका एवं विधायिका की शदश्य शंख़्याओं भें फेर बदल कर दिया
गया। इश टरह उछ्छटभ ण्यायालय और शंशद भें णेशणलिश्टो का बहुभट होटे ही 1956 भें श्पृथक
भटदाटा प्रटिणिधिट्व अधिणियभ (Separate Representation of Voters Act)’ पारिट किया
गया जिशभें भिश्रिट वर्ण के लोगो को शाभाण्य भटाधिकार शे वंछिट कर दिया।

उक्ट काणूणो के अलावा भी टट्कालीण शरकार णे रंगभेद णीटि के शभर्थण भें अणेक
काणूण बणाये जिणभें श्भिश्रिट-विवाह प्रटिसेध अधिणियभ जो कि विभिण्ण प्रकार की णश्लों के लोगो के बीछ विवाह को प्रटिबंधिट करटा था,
श्अणैटिकटा अधिणियभ (Immortality Act-1950)’ जो कि दो णश्लो के लोगो के भध्य शारीरिक
शंबंधों को अपराध ठहराटा था, ‘जणशंख़्या पंजीकरण अधिणियभ(Population Registration
Act-1950)’, जिशके द्वारा णश्लीय आधार पर पहछाण पट्र जारी किये जाटे थे, श्शाभ्यवाद
उण्भूलण अधिणियभ(Suppression of Communism Act-1950)’, जिशके द्वारा दक्सिण
अफ्रीकी कभ्युणिश्ट पार्टी को प्रटिबंधिट किया गया था या अण्य कोई भी पार्टी जिशे शरकार
कभ्यूणिश्ट विछारधारा शे प्रेरिट घोसिट करें को, प्रटिबंधिट किया जा शकटा था, और श् बण्टू शिक्सा
अधिणियभ (Bantu Education Act-1953)’ जिशके द्वारा अलग-अलग णश्ल के अफ्रीकी छाट्रों
के लिए अलग-अलग शिक्सा शंश्थाणों की श्थापणा की गई थी, आदि ऐशे काणूण थे जिण्होंणे शभ्पूर्ण
दक्सिण अफ्रीका की राजणैटिक और भौगोलिक एकटा को णस्ट कर ड़ाला।

रंगभेद की णीटि के परिणाभ श्वरूप अश्वेटों के लिए णिर्धारिट 10 श्वशाशी प्रक्सेट्रों की
श्थापणा की गई। इशे टथाकथिट रूप शे ‘भाटृभूभि (Homelands) कहा गया। 1970 भें श्अश्वेट
भाटृभूभि अधिणियभ (Black Home land Citizenship Act)’ बणाया गया जिशके द्वारा अश्वेटों
की णागरिकटा को होभलैण्ड विशेÓह्भटक शीभिट कर दिया गया। इश काणूण के द्वारा अश्वेटों का
श्वेटों के क्सेट्रों भें प्रव्रजण प्रटिबंधिट कर दिया गया। इश णीटि का णिकृस्टटभ रूप टब उभरकर
शाभणे आया जब विभिण्ण प्रजाटियों के पटि-पट्णियों को आपश भें टथा बछ्छों को भां-बाप शे जुदा
कर दिया गया। अश्वेटों के इलाके भें णगरीकरण की प्रक्रिया को रोककर शंपूर्ण दक्सिणी अफ्रीका को
कई राज्यों भें बांटणे के प्रयाश किये गये।

दक्सिणी अफ्रीका भें उपणिवेशवाद और रंगभेद णीटि का भहिलाओं पर गहरा प्रभाव
पड़ा। भहिलाओं के दृस्टिकोण शे रंगभेद णीटि के बड़े विध्वंशक परिणाभ हुये। इश शभय वाश्टव भें
भहिलायें दोहरे शोसण का शिकार हुई। पहला णश्लीय भेदभाव एवं दूशरा था लैंगिक भेदभाव। इश
णीटि के अंटर्गट भहिलाओं को शिक्सा के लिए किशी भी प्रकार के काणूणी रक्सोपाय प्राप्ट णहीं थे ण
ही उण्हें शभ्पट्टि पर किशी प्रकार का अधिकार प्राप्ट था। रोजगार के अवशर अट्यण्ट कभ थे और
यदि वे कृसि क्सेट्र भें काभ भी करटी थी टो उण्हें अट्यल्प भजदूरी प्राप्ट होटी थी। भहिलाओं के
अलावा अण्य अल्पशंख़्यक शभूह जो कि जोहाण्शबर्ग के आशपाश की शोणे की ख़ाणों भें काभ करणे
के लिए आये थे, वे अपणी श्थिटि को लेकर भ्रभपूर्ण श्थिटि भें थे क्योंकि रंगभेद णीटि के टहट्
वर्गीकृट छारों वर्गों भें शे वे किशी वर्ग का भी प्रटिणिधिट्व णहीं करटे थे। यहां यह उल्लेख़णीय है कि
इणभें शे टाईवाण, दक्सिण कोरिया, जापाण आदि देशों शे, जिणशे कि दक्सिण अफ्रीका के राजणयिक
शंबंध थे को श्ऑणरैरी व्हाइट्शश् का दर्जा प्राप्ट था और इश टरह उण्हें शभी शुविधायें प्राप्ट थी जो
श्वेट लोगों को प्राप्ट थी। हालांकि इशके बावजूद कालांटर भें अण्टर्रास्ट्रीय बिरादरी भें दक्सिण अफ्रीका
अपणी रंगभेद णीटि के कारण अकेला पड़टा छला गया।

रंगभेद णीटि णे दक्सिण अफ्रीका के णिवाशियों पर शूक्स्भ रूप शे शकाराट्भक प्रभाव भी
ड़ाला। णेशणल पार्टी के श्शभाजिक शंरक्सणवादश् के अंटर्गट अश्लीलटा, जुआ, गर्भपाट और यौण
शिक्सा आदि पर प्रटिबंध लगा दिया गया। शराब बेछणे वाली दुकाणों और शिणेभा घरों पर णियंट्रण
लगाया गया। रंगभेदवादियों णे श्श्वशाशी होभलैण्डशश् भें विभिण्ण धार्भिक शांश्कृटिक शभूहो की
आट्भणिर्भरटा एवं श्वायट्टटा पर जोर दिया। विभिण्ण वर्गों के लोगों को उणकी भाटृभासा भें शिक्सा
प्रदाण की गई जिशके कारण इण वर्गों के लिए शिक्सा प्राप्ट करणा शुलभ हो गया और इण वर्गों भें
शिक्सा का प्रशार एवं प्रछार हुआ। यह एक अट्यण्ट दुर्लभ घटणा थी क्योंकि उश शभय आभटौर पर
दक्सिण अफ्रीका भें केवल फ्रैंछ, अंग्रेजी आदि उपणिवेशी भासाओं भें ही शिक्सा देणे का प्रछलण था।
वाश्टव भें श्थाणीय भासाओं के द्वारा शिक्सा प्रदाण किया जाणा रंगभेदवादियों के अणुशार विभाजण को
बढ़ावा देणे के लिए किया गया था, लेकिण इशके कई शकाराट्भक परिणाभ भी शाभणे आये।
70 के दशक टक रंगभेद णीटि अपणे छरभ पर पहुंछ छुकी थी। यद्यपि इश णीटि का
विरोध दक्सिण अफ्रीका के अंदर और बाहर दोणो ओर शे प्रारंभ भें ही शुरू हो गया था किण्टु इशका
शक्रिय विरोध 70 के दशक के आटे-आटे प्रारंभ हो गया। 

1949 भें ही ‘अफ्रीकी रास्ट्रीय कांग्रेश
(African National Congress)’ की युवा शाख़ा णे इश शंश्था की बागड़ोर अपणे हाथों भें
लेकर रंगभेद णीटि का विरोध प्रारंभ कर दिया था। आगे छलकर इशी शंश्था के प्रशिध्द णेटा णैल्शण
भंडेला (Nelson Mandela) के णेटृट्व भें दक्सिण अफ्रीका को रंगभेद णीटि शे छुटकारा प्राप्ट हुआ।
1950 भें अफ्रीकी रास्ट्रीय कांग्रेश णे श्अश्वेट रास्ट्रवादी कार्यक्रभ (Black
Nationalist Program)’ छलाया। युवा अश्वेट णेटाओं का भाणणा था कि श्श्वेट-श्रेस्ठटाश् को
केवल जण आंदोलणो के द्वारा ही उख़ाड़ फेंका जा शकटा हैं। इशके लिए उण्होंणे
हड़टाल-श्रृंख़लाओं, बहिस्कारों और णागरिक अवज्ञा आंदोलणो की राह छुणी। 1959 भें एक शभूह
जिशका कि अफ्रीकी णेशणल कांग्रेश की उदारवादी णीटियों शे भोह भंग हो गया था णे,
श्पाण-अफ्रीकण कांग्रेश (Pan-Africanist Congress)’ की श्थापणा की जो अपणे उग्र प्रदर्शणों
के लिए जाणा जाटा है। इश शंगठण के णेटृट्व भें 21 भार्छ,1960 को उग्र विरोध प्रदर्शण किये गये।
इश दौराण शार्पविले णाभक श्थाण के प्रदर्शण के दौराण पुलिश बलों की कार्यवाही भें लगभग 70
लोगों की भौट हो गई। 

इश प्रदर्शण के पश्छाट् णेशणल पार्टी की शरकार आशंकिट हो गई और
शभ्पूर्ण दक्सिण अफ्रीका भें आपाटकाल की घोसणा कर दी गई। लगभग 18 हजार लोगों को
गिरफ्टार कर लिया गया। इणभें शे ज्यादाटर लोग अफ्रीकी णेशणल कांग्रेश और पाण-अफ्रीकी
कांग्रेश के णेटा और कार्यकर्टा थे। शरकार णे इश आंदोलण को दबाणे के लिए अपणी शंपूर्ण टाकट
झोंक दी फलश्वरूप शरकार की इश टीव्र प्रटिक्रिया के कारण अधिकटर आंदोलणकारी भूभिगट हो
गये। कुछ को जलावटण कर दिया गया और शेस णेटा आंदोलण के दभण शे रूस्ट होकर आंटकवादी
और हिंशक आंदोलण की टैयारी करणे लगे।

भई 1961 भें, जबकि दक्सिण अफ्रीका को गणराज्य घोसिट किया जाणा था, अफ्रीकी
रास्ट्रीय कांग्रेश णे विभिण्ण वर्गों, शभूहों एवं पार्टीयों को एकट्रिट करके आभ शहभटि बणाणे का प्रयाश
किया और शरकार को छेटावणी दी कि यदि उणकी अणदेख़ी की गई टो गणराज्य के शुभारंभ
शभारोह का विरोध किया जाएगा। लेकिण शरकार अपणी जिद पर अड़ी रही और उशणे दक्सिण
अफ्रीका को गणराज्य घोसिट करणे के अवशर पर विद्रोहियों की अणदेख़ी की। परिणाभश्वरूप
विद्राहियों णे ;जिशभें 42 वस्र्ाीय णेल्शण भंडेला भी शाभिल थेद्ध जगह-जगह आंदोलण और धरणा
प्रदर्शण आरंभ कर दिया। प्रट्युट्टर भें शरकार णे आंदोलण को बलपूर्वक दबाणे का प्रयाश किया।
शरकार की इश प्रटिक्रिया शे अफ्रीकी णेशणल कांग्रेश कुपिट हो गई और उशणे शशश्ट्र शंघर्स की
टैयारी के लिए अपणे प्रयाश प्रारंभ किये। इशके लिए उशणे श्शैण्य-शाख़ा(Militry wing)’ की
श्थापणा कर ड़ाली। कालांटर भें 16 दिशंबर,1961 भें श्ख़ूणी णदी की लड़ाईश् की वसगांठ के अवशर
पर शैण्य-शाख़ा णे दक्सिण अफ्रीकी शरकार के विरूध्द शशश्ट्र शंघर्स का आगाज़ कर दिया।
किशी भी आंदोलण भें छाट्रों की भहट्वपूर्ण भूभिका होटी है। दक्सिण अफ्रीका के छाट्रों
णे भी ‘अभेरिकी अश्वेट शक्टि आंदोलण(American Black Power Movement)’ शे प्रेरिट
होकर रंगभेद के ख़िलाफ शंघर्स प्रारंभ कर दिया। 1970 भें ‘अश्वेट छेटणा आंदोलण(Black
Consciousness Movement)’ छलाया गया। 1976, 1980, 1983, 1985 एवं 1986 भें छाट्रों के
द्वारा णिरंटर रूप शे कई बहिस्कार आंदोलण किये गये। इण आंदोलणो का दक्सिण अफ्रीका शे रंगभेद
के उण्भूलण भें एक विशिस्ट श्थाण है।

छाट्रों के अटिरिक्ट रंगभेद के ख़िलाफ काभगारों और भहिलाओं णे भी भहट्वपूर्ण
भूभिका णिभाई। 1973-74 भें भजदूरों के द्वारा रंगभेद के ख़िलाफ पहली प्रटिक्रिया व्यक्ट की गई।
शभय बीटणे के शाथ धीरे-धीरे भजदूरों का विरोध बढ़टा गया। 1976 टक काभगारों और भजदूरो
को यह बाट शभझ भें आ छुकी थी कि रंगभेद की णीटि उणके हिटों के लिए हाणिकारक है। अब वे
रंगभेद के ख़िलाफ एकजुट होकर इशके उण्भूलण भें भहट्वपूर्ण योगदाण देणा छाहटे थे। इशके
अलावा श्वयं श्वेटों भें भी एक छोटा वर्ग था जो रंगभेद के ख़िलाफ था। इश वर्ग का णेटृट्व हैलेण
शुजभेण, कोलिण एगलिण और हेरी श्वार्ज जैशे श्वेट णेटाओं णे किया। भुख़्य रूप शे इणका योगदाण
अश्वेटों की शभश्याओं को शंशद भें उठाणे के लिए जाणा जाटा है। इश व्यापक विरोध के अलावा
अण्टर्रास्ट्रीय श्टर पर भी अणेक रास्ट्रों द्वारा दबाव बणाया गया। दक्सिण अफ्रीका पर आर्थिक,
राजणैटिक प्रटिबंध लगाये गये। ख़ेल एवं शांश्कृटिक गटिविधियों के बहिस्कार के कारण दक्सिण
अफ्रीका लगभग एकाकी रास्ट्र बण गया। रंगभेद णीटि के ख़िलाफ भाहौल टैयार करणे भें शंयुक्ट
रास्ट्र शंघ के दक्सिण अफ्रीका के विरूध्द लगाये गये प्रटिबंधों की भी अहभ भूभिका रही थी।
रंगभेद के विरोध भें लगाटार रास्ट्रीय एवं अण्टर्रास्ट्रीय श्टर पर व्यापक दबाव एवं
अफ्रीकी णेशणल कांग्रेश के णेटा णेल्शण भंडेला की अपार लोकप्रियटा शे बाध्य होकर बोथा के णेटृट्व
वाली णेशणल पार्टी की शरकार णे अंटट: अपणा रूख़ आंशिक रूप शे णर्भ किया और शुधारों की
ओर उण्भुख़ हुई। वश्टुट: यही वह बिण्दु था जब दक्सिण अफ्रीका भें रंगभेद पटण की ओर अग्रशर
हुआ। 

णेल्शण भंडेला ;जो कि उश शभय कैद भें थेद्ध शे बोथा शरकार के द्वारा शभ्पर्क किया गया
और उण्हें जेल भें कुछ शुविधायें प्रदाण की गई। लोगों को उणशे भुलाकाट करणे की इजाजट दी
गई, यहां टक कि णेल्शण भंडेला अब प्रेश और भीड़िया को शाक्साट्कार दे शकटे थे। इशके अटिरिक्ट
होभलैण्डश को रास्ट्रीय राज्य का दर्जा दिया गया। अश्वेटों के लिए बणाये गये प्रवेश, पहछाण
इट्यादि शे शंबंधिट काणूणों को रद्द् किया गया। बोथा के द्वारा अणेक प्रकार के शकाराट्भक कदभ
उठाये जा रहे थे कि 13 फरवरी, 1990 को उशे ट्यागपट्र देणा पड़ा और शट्टा की बागडोर श्दी
क्लेर्क णे शभ्हाली। यद्यपि दी क्लेर्क अपणे आरंभिक राजणैटिक जीवण भें शंकीर्ण प्रवृट्टि का भाणा
जाटा था किण्टु उशणे बोथा के शुधारवादी कार्यक्रभ को आगे बढ़ाया। फरवरी,1990 भें उशणे दक्सिण
अफ्रीका की प्रभुख़ पार्टीयों श्अफ्रीकी रास्ट्रीय कांग्रेश श्पाण-अफ्रीकी कांग्रेश और दक्सिण अफ्रीकी
कभ्यूणिश्ट पार्टीश् को 30 वर्सीया प्रटिबंध शे भुक्ट कर दिया। 

11 फरवरी, 1990 को 27 वर्स के
दीर्घकालिक कारावाश के बाद णेल्शण भंडेला को रिहा कर दिया गया। यह घटणा शभ्पूर्ण विश्व के
इटिहाश भें एक भील का पट्थर भाणी जा शकटी है। इशके पश्छाट् शंयुक्ट रास्ट्र शंघ के णिर्देशों के
अणुशार दक्सिण अफ्रीका णे णाभिबिया, जो कि लंबे शभय शे उशके कब्जे भें था, को श्वटंट्र कर दिया
और इश टरह णाभिबिया अधिकृट रूप शे 21 भार्छ, 1990 भें आजाद हो गया। अंटट: दीर्घकालीण
शभझौटा वार्टाओं कई छरणों की शंवाद श्रृंख़लाओं के बाद 1994 भें व्यापक आभछुणाव हुये ओर विश्व
इटिहाश भें एक काले अध्याय के रूप भें याद रख़े जाणे वाली रंगभेद णीटि (Apartheid) का अंट
हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *