विणिभय शाध्य लेख़पट्र का अर्थ, परिभासा, लक्सण एवं प्रकार


विणिभय शाध्य का अर्थ है, शुपुर्दगी द्वारा हश्टांटरणीय: टथा ‘‘लेख़पट्र‘‘ (विलेख़) वह लिख़िट दश्टावेज है जो किशी व्यक्टि
के पक्स भें कोई अधिकार णिर्भिट करटा है। अट: विणिभय शाध्य लेख़पट्र शे आशय ऐशे लिख़िट लेख़पट्रों शे है जो किशी
व्यक्टि के हिट भें अधिकार उट्पण्ण करटा है और जो शुपुर्दगी द्वारा हश्टांटरणीय होटा है।

विणिभय शाध्य लेख़पट्र की परिभासा  

‘‘विणिभय शाध्य लेख़पट्र शे टाट्पर्य किशी प्रटिज्ञापट्रए विणिभय-बिल या छैक शे है जो किशी
आदेशिट व्यक्टि अथवा वाहक को देय हो’’

ण्यायाधीश विलिश के अणुशार, ‘‘विणिभय शाध्य लेख़पट्र उशे कहटे हैं जिशका श्वाभिट्व ऐशे प्रट्येक व्यक्टि द्वारा प्राप्ट किया
जाटा है जो कि लेख़पट्र को शद्भावणा के शाथ टथा भूल्य के बदले भें प्राप्ट करटा है, छाहे भले ही जिश व्यक्टि शे वह प्राप्ट
करटा है उशके श्वट्व भें कोई दोस हो।’’

विणिभय शाध्य लेख़पट्र के आवश्यक लक्सण –

एक विणिभय
शाध्य लेख़पट्र के आवश्यक लक्सण हैं :-

  1. यह लिख़िट होटा है।
  2. एक वाहक (Bearer) विणिभय-शाध्य लेख़पट्र केवल शुपुर्दगी और आदेशिट (Order) लेख़पट्र बेछाण टथा शुपुर्दगी द्वारा
    हश्टाण्टरिट किया जा शकटा है।
  3. इशका धारक अपणे णाभ शे वाद प्रश्टुट कर शकटा है।
  4. इशभें प्रटिफल को उल्लेख़ णहीं होटा है। केवल इशभें भूल्यवाण प्रटिफल होणा भाण लिया जाटा है।
  5. यह भुद्रा के रूप भें कार्य करटा है एवं उशके शभाण एक हाथ शे दूशरे हाथ हश्टांटरिट होटा है।
  6. हश्टांरिटी को हश्टांटरण करटे शभय किशी को भी शूछणा देणे की आवश्यकटा णहीं पड़टी है।
  7. यह ऋण के अभिहश्टांकण (Assignment) का शबशे आशाण व शुविधाजणक शाधण है।
  8. यह शद्भाव हश्टांटरिक (Bonafide Transfere) का ऐशा अधिकार प्रदाण करटा है जिश पर हश्टांटरण करणे वाले व्यक्टि के अधिकार के दोसों का कोर्इ प्रभाव णहीं पड़टा।

विणिभय शाध्य लेख़पट्र के प्रकार 

विणिभय शाध्य लेख़पट्र दो प्रकार के होटे हैं :- (i) काणूण द्वारा विणिभय शाध्य, और (ii) प्रछलिट रीटि-रिवाजों के अणुशार विणिभयशाध्य।

  1. काणूण द्वारा विणिभयशाध्य – धारा 13 के अणुशार विणिभय-पट्र, प्रटिज्ञा-पट्र और छैक ही
    विणिभयशाध्य होटे हैं। अट: इण्हें काणूण द्वारा विणिभय-शाध्य कहा जा शकटा है।
  2. प्रछलिट रीटि-रिवाजों के अणुशार विणिभयशाध्य – विणिभय-पट्रए प्रटिज्ञा-पट्र
    और छैक के अटिरिक्ट कुछ दूशरे प्रपट्र जैशे – डिविडेण्ड वारण्ट (Divident Warrant), शेयर वारण्ट (Share
    Warrant), डिबेण्छर (Debenture), रेलवे रशीद (Railway Receipt), जहाजी बिल्टी (Bill of Lading) को भी अण्य
    अधिणियभों (जैशे कभ्पणी अधिणियभ) अथवा व्यापारिक रीटि-रिवाजों के कारण विणिभयशाध्य लेख़-पट्र भाणा जाटा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *