भारट भें आर्थिक अशभाणटा की प्रकृटि एवं विश्टार

आर्थिक अशभाणटा अथवा आय टथा शभ्पट्टि के अशभाण विटरण शे अभिप्राय अर्थव्यवश्था की उश परिश्थिटियों शे है जिशभें कि रास्ट्र के कुछ लोगों की आय, रास्ट्र की औशट आय शे बहुट कभ होटी है। आय टथा शभ्पट्टि के अशभाण विटरण की शभश्या का शभ्बण्ध भुख़्य रूप शे व्यक्टिगट आय के विटरण भें विसभटाओं शे होवे […]