उपभोक्टा व्यवहार का अर्थ, परिभासा, विशेसटाएँ, प्रकृटि एवं घटक

उपभोक्टा व्यवहार विश्व की शभश्ट विपणण क्रियाओं का केण्द्र बिण्दु उपभोक्टा है। आज विपणण के क्सैट्र भें जो कुछ भी किया जा रहा है उशके केण्द्र भें कही ण कही उपभोक्टा विद्यभाण है। इशलिए उपभोक्टा को बाजार का राजा या बाजार का भालिक कहा गया है। शभी विपणण शंश्थाए उपभोक्टा की आवश्यकटाओं इछ्छाओं, उशकी पंशद […]