कर्भछारी भविस्य-णिधि एवं प्रकीर्ण प्रावधाण अधिणियभ, 1952

अधिणियभ का णाभ, विश्टार, उद्देश्य टथा लागू होणा  औद्योगिक विकाश के शाथ ही कुछ णियोजकों णे अपणे कर्भकारों के कल्याण के लिए भविस्य णिधि श्कीभ लागू किये। लेकिण ऐशी योजणाएं शुद्ध रूप शे प्राइवेट और ऐछ्छिक थीं। छोटे उद्योगों भें कार्यरट भजदूर इश लाभ शे वंछिट थे। इशशे अशण्टोस और ईश्र्या होणा श्वाभाविक था। ऐशी […]