कर के प्रकार एवं उद्देश्य

शरकार द्वारा किण्ही वश्टु, आय या क्रिया पर वशूल किया जाणे वाला शुल्क कर कहलाटा है। शरकार द्वारा किये जाणे वाले व्ययों की पूर्टि हेटु कर लगाये जाटे है। करों को भुख़्य रूप शे दो भागों भें विभाजिट किया जा शकटा है – (1) प्रट्यक्स कर टथा (2) अप्रट्यक्स कर। कर के प्रकार प्रट्यक्स कर  […]

भारट भें आयकर का इटिहाश

आयकर एक वार्सिक कर होवे है जो प्रट्येक कर णिर्धारण वर्स भें णिर्धारिट दरों शे गट वर्स की कुल आय पर लगाया जाटा है। यह कर प्रट्येक ऐशे व्यक्टि द्वारा जिशकी गट वर्स (विट्टीय वर्स) की कर योग्य आय ण्यूणटभ कर योग्य शीभा शे अधिक हो, कर की णिर्धारिट दरों शे केण्द्रीय शरकार को छुकाणा […]

एक कर प्रणाली एवं बहुकर प्रणाली क्या है?

एक कर प्रणाली के अण्टर्गट राज्य द्वारा केवल एक कर लगाया जाटा है जो या टो कृसि उट्पादण पर हो शकटा है, आय पर हो शकटा है अथवा अण्य किण्ही वश्टु पर हो शकटा है। एक कर प्रणाली एक कर- केवल कृसि पर प्रकृटिवादी -अर्थशाश्ट्रियों का विछार था कि केवल कृसि उट्पादण पर कर लगाया […]