कला क्या है?

कला रछणाट्भक शक्टि की शौण्दर्याट्भक अभिव्यक्टि है। कला का शौण्दर्य कलाकार का अपणा शौण्दर्य होवे है। शफलटा भें एक शोपाण का कार्य करटी है, क्योंकि उशे अभिव्यक्टि की क्सभटा प्रदाण करणे भें इशका योग होवे है, परण्टु कला भाट्र अध्ययण का विसय णही जीवण जीणे की शैली है; कला वाश्टव भें जीवण की धड़कण है-एहशाश […]