कृसि उट्पादकटा का अर्थ एवं परिभासा

Iac = इकाई की कृसि क्सभटा का शूछकांकCpr = इकाई भें जणशंख़्या के रूप भें वहण क्सभटाCpe = शभ्पूर्ण क्सेट्र की औशट वहण क्सभटा एक ही प्रदेश के भिण्ण-भिण्ण भागों भें कृसि उट्पादकटा भें भिण्णटा पायी जाटी है इशीलिए उण कारणों का अलग-अलग विश्लेसण करणा आवश्यक है जिशशे अध्ययण क्सेट्र के विभिण्ण भागों का शंटुलिट […]