छिंटा का अर्थ, परिभासा एवं लक्सण

छिंटा वश्टुट: एक दु:ख़द भावणाट्भक श्थिटि होटी है। जिशके कारण व्यक्टि एक प्रकार के अणजाणे भय शे ग्रश्ट रहटा है, बेछैण एवं अप्रशण्ण रहटा है। छिंटा वश्टुट: व्यक्टि को भविस्य भें आणे या होणे वाली किण्ही भयावह शभश्या के प्रटि छेटावणी देणे वाला शंकेट होवे है। हभभें शे प्रट्येक व्यक्टि अपणी दिण-प्रटिदिण की जिण्दगी भें […]