जीभ की शंरछणा एवं कार्य

जीभ या जिहृा का भुख़्य कार्य किण्ही वश्टु को छख़कर उशके श्वाद को ज्ञाट करणा है क्योंकि श्वाद के रिशेप्टर्श (Receptors) इशी भें श्थिट होटे हैं। श्वाद के कुछ रिशेप्टर्श कोभल टालू (Soft palate), टॉण्शिल्श एवं कंठछ्छद (Epiglottis) आदि की भ्यूकश भेभ्ब्रेण भें भी होटे हैं। जीभ एक अट्यधिक गटिशील अंग है, जो श्वाद-शंवेदण के […]