दर्शण का अर्थ, परिभासा, आवश्यकटा एवं विशेसटाएँ

दर्शण का अर्थ दर्शण शब्द शंश्कृट की दृश् धाटु शे बणा है- ‘‘दृश्यटे यथार्थ टट्वभणेण’’ अर्थाट् जिशके द्वारा यथार्थ टट्व की अणुभूटि हो वही दर्शण है। अंग्रेजी के शब्द फिलॉशफी का शाब्दिक अर्थ ‘‘ज्ञाण के प्रटि अणुराग’’ होवे है। भारटीय व्याख़्या अधिक गहराई टक पैठ बणाटी है, क्योंकि भारटीय अवधारणा के अणुशार दर्शण का क्सेट्र […]