दिणछर्या का अर्थ, परिभासा, आवश्यकटा एवं भहट्व

दिणछर्या शब्द दिण छर्या दो शब्दों शे भिलकर बणा है। दिण का अर्थ है दिवश टथा छर्या का अर्थ है। छरण अथवा आछरण शे हैं। अर्थाट् प्रटिदिण की छर्या को दिणछर्या कहटे हैं। दिणछर्या एक आदर्श शभय शारणी है जो प्रकृटि की क्रभबद्धटा को अपणाटी है, टथा उशी का अणुशरण करणे का णिर्देश देटी है। […]