Category Archives: ध्यान

ध्यान का अर्थ, परिभाषा एवं महत्व

जब धारणाभ्यासी देश-विशेष में मन को लगाते हुए मन को ध्येय के विषय पर स्थिर कर लेता है तो उसे ध्यान कहते हैं। यह समाधि-सिद्धि के पूर्व की अवस्था है। ध्यान अष्टांग योग का सातवाँ अंग है। पहले के छ: अंग ध्यान की तैयारी के रूप में किए जाते हैं। ध्यान से आत्म साक्षात्कार होता… Read More »