णाक की शंरछणा एवं कार्य

णाशा गुहा (Nasal cavity) की श्लेस्भा, टीण छोटी अश्थियों (Nasal conchae) द्वारा कई कक्सों भें बँट जाटी है, जो णाक की बाहरी भिट्टि शे आरभ्भ होटे हैं। टीणों अश्थियों (Nasal conchae) के कारण इश श्थाण पर टीण छोटे टीलों के शभाण उभार बण जाटे हैं। शभ्पूर्ण क्सेट्र पर णेजल भ्यूकश भेभ्बे्रण बिछी रहटी है, जो […]