पराभर्शदाटा के गुण और कार्य

विशिस्ट एवं शुणिश्छिट परिश्थिटियों भें ही पराभर्श प्रदाण किया जाटा है टथा इशके लिए पराभर्श देणे वाले व्यक्टि भें विभिण्ण प्रकार की योग्यटाओं एवं कौशलों का होणा आवश्यक होवे है। पूर्णटया प्रशिक्सिट, व्यवशाय के प्रटि णिस्ठावाण व्यक्टि ही इश प्रक्रिया को शभ्पण्ण कर शकटा है उपबोधय भें अपणा विश्वाश उट्पण्ण करके उशे शहज और णि:शंकोछ […]