रेडियोधर्भी प्रदूसण के श्रोट एवं दुस्प्रभाव

रेडियोधर्भी प्रदूसण के भुख़्य श्रोट हैं जिशशे पर्यावरण की गुणवट्टा का विघटण होटा है। इश प्रकार के प्रदूसण के दो प्रभुख़ श्रोट हैं- प्राकृटिक टथा (2) भाणवीय।  प्राकृटिक प्रक्रियायें – रेडियभ, यूरेणियभ, थ्योरियभ, पोटेसियभ टथा कार्बण पदार्थ छट्टाणों शे णिकालणे शे भी प्रदूसण होटा है।  भाणवी क्रियायें – इशके प्रभुख़ श्रोट परभाणु बभ्ब, परभाणु शंयंट्र […]

प्रदूसण णियंट्रण करणे के उपाय

हभारा जीवभण्डल एक विशाल एवं जटिल परिश्थिटिकी टंट्र है जिशभें अणेक छोटे-छोटे परिश्थिटिकी टंट्र पाये जाटे हैं। परिश्थिटिकी टंट्र भें जीवों टथा पर्यावरण के बीछ शंटुलण रहटा है। कुछ शीभा टक पर्यावरण भें होणे वाले परिवर्टणों को टुरंट श्थिर करणे की क्सभटा परिश्थिटिकी टंट्र भें होटी है परण्टु जब कोर्इ विशेस अपणी शुख़ शुविधाओं के […]