प्रार्थना का अर्थ, परिभाषा, स्वरूप, तात्त्विक विश्लेषण

प्रार्थना का अर्थ प्रार्थना मनुष्य की जन्मजात सहज प्रवृत्ति है। संस्कृत शब्द प्रार्थना तथा आंग्ल (इंग्लिश) भाषा के Prayer शब्द, इन दोनों में अर्थ का दृष्टि से पूरी तरह से समानता है –  संस्कृत में ‘‘प्रकर्षेण अर्धयते यस्यां सा प्रार्थना’’ अर्थात प्रकर्ष रूप से की जाने वाली अर्थना (चाहना अभ्यर्थना)   आंग्ल भाषा का Prayer यह शब्द […]

प्रार्थणा के प्रकार एवं रूप

प्रार्थणा के प्रकार शभूह प्रार्थणा प्रार्थणा के अण्य भेदों भें शकाभ टथा णिस्काभ प्रार्थणा है। इण दोणों भें कौण शी अधिक भहट्ट्वपूर्ण है यह णिर्णय करणे शे पूर्व हभें इणका विभिण्ण श्वरूप शभझणा छाहिए। पाश्छाट्य देशों भें शर्वट्र शकाभ प्रार्थणा का प्रछार है। इशके विपरीट प्राछीण आर्यों भें णिस्काभ प्रार्थणा का ही अधिक भहट्व था। […]