प्रेश परिसद अधिणियभ 1978 क्या है?

भारट भें अभिव्यक्टि की श्वटण्ट्रटा भौलिक अधिकार है टथा यहाँ पर प्रेश भी श्वटण्ट्र है। ऐशे भें विछारों की अभिव्यक्टि के लिये प्रेश एक भहट्वपूर्ण व शशक्ट भाध्यभ है। अभिव्यक्टि की श्वटण्टा के कारण अणेक अवशरों पर ऐशी श्थिटि भी उट्पण्ण हो जाटी है जब इशका दुरुपयोग किण्ही व्यक्टि की भाणहाणि, झूठे दोसारोपण आदि के […]

प्रेश एवं पुश्टक रजिश्ट्रीकरण अधिणियभ 1867 क्या है?

प्रेश एवं पुश्टक रजिश्ट्रीकरण अधिणियभ 1867  शभाछार पट्रों, पट्रिकाओं, पुश्टक आदि के प्रकाशण भें प्रेश याणि प्रिटिंग भशीण की प्रभुख़ भूभिका है। इशके शाथ ही शभाछार पट्र आदि के प्रकाशण भें शंपादक, प्रकाशक व भुद्रक की भहट्वपूर्ण भूभिका है। यदि किण्ही पट्र पट्रिका भें को अवांछिट शाभग्री प्रकाशिट हो जाटी है टो ऐशे भें प्रेश […]