Category Archives: बैंकिंग

बैंकिंग का अर्थ

बैंकिंग विनिमय अधिनियम की धारा 5 (b) के अनुसार बैंकिंग का अर्थ उधार या निवेश के उद्देश्य के लिये जनता से ली गयी धनराशि है जो कि मांग पर प्रतिदेय या अन्यथा चेक, ड्राफ्ट, आदेश या अन्यथा द्वारा निकाली जा सके। अधिनियम, 1881 के अनुसार, बैंकर के अन्तर्गत बैंकिंग का काम करने वाला प्रत्येक व्यक्ति… Read More »

बैंकिंग के कार्य एवं बैंकिंग खाते के प्रकार

सामान्य सोच के अनुसार बैंक धन जमा हेतु एक भरोसेमंद संस्था है। बैंक आपकी मूल्यवान वस्तुएं, सुरक्षित जमाहेतु स्वीकार करते हैं एवं वापसी का विश्वास देते हैं, यह बैंकों का गौण कार्य है। सामान्यत: बैंक में गहने, मूल्यवान प्रतिभूति, वस्तुएं सुरक्षा के लिए बैंक में जमा की जाती है। लेकिन बैंकों द्वारा एक निक्षेपग्रहीता एवं… Read More »