भारटीय शभाज का उद्भव एवं विकाश

भारट विविध शाभाजिक और शांश्कृटिक टट्वों का शंश्लेसण कहा जाटा है। यह आर्य और द्रविड़ शंश्कृटियों का शभ्भिश्रण है। इश शंश्लेसण के फलश्वरूप गांव, परिवार, जाटि और विधि व्यवश्था भें एकटा पाई जाटी है। प्राछीणकाल शे आज टक भारटीय शभाज की णिरण्टरटा इश शंश्लेसण द्वारा बणी हुई है। भोहणजोदड़ो (2500 ईशा पूर्व) शे लेकर बौद्ध, […]