Category Archives: मूल्य वर्धित कर प्रणाली

मूल्य वर्धित कर प्रणाली (वैट) की विशेषताएं, गुण एवं दोष

मूल्य वर्धित कर प्रणाली में राज्य में माल के प्रत्येक विक्रय पर कर लगता है तथा विक्रेता द्वारा राज्य में क्रेता को चुकाए गए कर का सेट-ऑफ ‘इनपुट टैक्स रिबेट’ के रूप में प्राप्त होवे है। इस प्रणाली में एक बार प्रथम विक्रेता को पूर्ण विक्रय मूल्य पर कर लगता है तथा बाद के विक्रयों… Read More »