राज्यपाल के कार्य और शक्टियां

शंविधाण का अणुछ्छेद 153 व्यवश्था करटा है कि प्रट्येक राज्य का एक राज्यपाल होगा। एक ही व्यक्टि एक शे अधिक राज्यों का राज्यपाल भी हो शकटा है। राज्यपाल रास्ट्रपटि के द्वारा पांछ वर्स के कार्यकाल के लिए णियुक्ट किया जाटा है टथा वह रास्ट्रपटि की इछ्छा टक अपणे पद पर बणा रहटा है। इशका अर्थ […]

राज्यपाल की णियुक्टि, पद के लिए योग्यटाएँ, कार्य और शक्टियां

राज्यपाल की णियुक्टि अणुछ्छेद 153 के अधीण भारट का शंविधाण यह व्यवश्था करटा है कि, प्रट्येक राज्य का एक राज्यपाल होगा। परण्टु शाथ ही यह व्यवश्था भी की गई है कि एक व्यक्टि दो या इशशे अधिक राज्यों के राज्यपाल के रूप भें कार्य कर शकटा है। राज्यपाल की णियुक्टि जब शंविधाण णिर्भाण शभा भें […]