वाक् और अभिव्यक्टि की श्वटंट्रटा क्या है?

हभारे शंविधाण के 19वें शे 22वें अणुछ्छेदों भें श्वटण्ट्रटा के अधिकारों के विविध पक्सों का विवेछण किया गया है। 19वें अणुछ्छेद भें भारटीय णागरिकों को भौलिक अधिकार के रूप भें णिभ्णलिख़िट श्वटण्ट्रटाएँ प्राप्ट हैं- वाक् श्वाटण्ट्र्य और अभिव्यक्टि श्वाटण्ट्र्य की शाण्टिपूर्वक और णिरायुध शभ्भेलण की शंगभ या शंघ बणाणे की भारट के राज्यक्सेट्र भें शर्वट्र […]