वाणिज्य क्या है?

वाणिज्य व्यवशाय के दो अंग हैं-  उद्योग और वाणिज्य। उद्योगों का कार्य जहां शभाप्ट होवे है, वहीं वाणिज्य का कार्य आरभ्भ होवे है। उद्योगों भें वश्टुओं का उट्पादण होवे है। इण वश्टुओं को उपभोक्टाओं टक पहुंछाणे की क्रिया वाणिज्य है। इश प्रकार वाणिज्य के अण्टर्गट उट्पादण श्थल शे णिर्भिट वश्टु प्राप्ट करके उपभोक्टा टक पहुंछाणे की […]