Category Archives: विक्रय

विक्रय संवर्धन क्या है?

प्रत्येक व्यवसायी जिन वस्तुओं का व्यापार करता है, वह उनकी बिक्री बढ़ाना चाहता है। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए वह विभिन्न विधियाँ अपना सकता है। आपने शायद ‘‘लखपति बनो’’, ‘‘सिंगापुर की यात्रा करो’’, ‘‘एक किलो के पैकेट में 30 प्रतिशत अतिरिक्त पाओ’’, ‘‘कार्ड खुरचो इनाम जीतो’’ आदि के बारे में अवश्य सुना होगा। आपको… Read More »

विक्रय प्रबंध का अर्थ, परिभाषा, तत्व या विशेषताएँ या लक्षण

प्रारम्भ में, ‘विक्रय-प्रबंध’ का अर्थ विक्रेतओं के निर्देशन अथवा पर्यावेक्षण’ से लगाया जाता था। किन्तु बाद में विक्रय-प्रबंध में प्रबंध के अन्य पहलु भी शामिल किये जाने लगे तथा 20वीं सर्दी में प्रबंध का अर्थ अत्यंत रूप से व्यापाक हो गया जिसमें विज्ञापन, विपणन, अनुसंधान, विक्रय-संवर्धन, कीमत निर्धारण, भौतिक वितरण उत्पादन नियोजन को भी विक्रय-प्रबंध… Read More »

वैयक्तिक विक्रय का अर्थ

वैयक्तिक विक्रय विक्रयकला से विस्तृत अवधारणा है। यह विपणन के अन्य तत्त्वों जैसे मूल्य निर्धारण, विज्ञापन, उत्पाद विकास तथा अनुसन्धान तथा वस्तुओं के भौतिक वितरण को लागू करने का एक साधन है। विक्रय कला वैयक्तिक विक्रय का एक पहलू है। यह वैयक्तिक विक्रय में प्रयोग की जाने वाली कला कौशल है। स्टिल एवं कनडिफ के… Read More »

विक्रय प्रशिक्षण का अर्थ, परिभाषा एवं विशेषताएँ

विक्रय प्रशिक्षण, का अर्थ है विक्रय के सम्बन्ध में प्रशिक्षण देना। इस प्रशिक्षण द्वारा विक्रयकर्ताओं को यह सिखाया जाता है कि वे किस प्रकार विक्रय के कार्य को अच्छी प्रकार से पूरा कर सकते हैं। प्रशिक्षण के द्वारा विक्रेताओं के गुणों और योग्यताओं को और अधिक विकसित किया जाता है ताकि उनकी विक्रय प्रतिभा में… Read More »

विक्रय बजट क्या है?

कार्यानुसार बजट, वह बजट है जो किसी व्यवसाय के एक विशेष कार्य से सम्बन्धित होता है, जैसे उत्पादन बजट, विक्रय बजट आदि। कार्यानुसार बजट प्रत्येक कार्य के आधार पर तैयार किये जाते हैं। इसके पश्चात् सभी बजटों का समन्वय करके मास्टर बजट तैयार किया जाता है। विक्रय बजट, बजट अवधि की कुल बिक्री की भविष्यवाणी… Read More »

विक्रय कोटा या विक्रय अभ्यंश क्या है?

प्रत्येक उपक्रम या व्यावसायिक उपक्रम अपने संगठन के विस्तृत उद्देश्य निर्धारित करता है। जिनमें से अधिकतम विक्रय भी एक महत्त्वपूर्ण उद्देश्य होता है। इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए उपक्रम के प्रबन्धकों द्वारा विक्रेताओं के तथा विक्रय क्षेत्रों के लिए विक्रय लक्ष्य निर्धारित किये जाते हैं। इन विक्रय लक्ष्यों की प्राप्ति का एक प्रभावी उपाय… Read More »