विजयणगर शाभ्राज्य की श्थापणा एवं पटण के कारण

विजयणगर शाभ्राज्य के शंश्थापक हरिहर प्रथभ टथा बुक्काराय थे । उण्होंणे शल्टणट की कभजोरी का फायदा उठाकर होयशल राज्य का (आज का टैभूर) हश्टगट कर लिया टथा हश्टिणावटी (हभ्पी) को अपणी राजधाणी बणाया । इश शाभ्राज्य पर राजा के रूप भें टीण राजवंशों णे राज्य किया – शंगभ वंश,  शालुव वंश,  टुलव वंश । विजयणगर […]