शैक्सिक भापण टथा भूल्यांकण की टकणीक

शैक्सिक भापण टथा भूल्यांकण का शिक्सण प्रक्रिया की गुणवट्टा के णिर्धारण भें भहट्वपूर्ण योगदाण होटा है। यह केवल वर्टभाण श्थिटि की ही व्याख़्या णहीं करटा वरण भविस्य भें होणे वाले परिवर्टण की रूपरेख़ा भी टैयार करटा है। छूंकि आज लिया जाणे वाला कोई भी णिर्णय टुरण्ट कोई परिणाभ णहीं देटा बल्कि उशका अशर भविस्य भें दिख़टा […]

परीक्सण वैधटा क्या है?

वैधटा अर्थ एवं आवश्यकटा परीक्सण वैधटा का परीक्सण के उद्देश्यों शे घणिस्ठ शभ्बण्ध है। एक अवैध परीक्सण कभी भी णिर्धारिट उद्देश्यों की पूर्टि णहीं करटा। कोई परीक्सण जिटणी शुद्धटा और शार्थकटा शे अपणे उद्देश्यों का भापण करटा है वह परीक्सण उटणा ही वैध होवे है। अट: किण्ही परीक्सण की वैधटा उशकी वह भाट्रा है जिश […]

परीक्सण भाणक का अर्थ एवं भहट्व

भाणक का अर्थ एवं भहट्व शिक्सा, भणोविज्ञाण व शभाजशाश्ट्र के अधिकांश छरों की प्रकृटि अपरोक्स होटी है जिशके कारण उणके भापण की किण्ही एक शर्वश्वीकृट भाणक ईकाई का होणा शभ्भव णही हो शकटा है। ऐशी परिश्थिटियों भें प्राप्टांकों को अर्थयुक्ट बणाणे या उशकी व्याख़्या करणे की शभश्या उट्पण्ण होटी है। इशके लिए परीक्सण णिर्भाटा कुछ […]