Category Archives: संसाधन

संसाधन किसे कहते हैं?

संसाधन शब्द का अभिप्राय साधारणत: मानवी उपयोग की वस्तुओं से है। ये प्राकृतिक और सांस्कृतिक दोनों हो सकती हैं। मनुष्य प्रकृति के अपने अनुरूप उपयोग के लिए तकनीकों का विकास करता है। प्राकृतिक तंत्र में किसी तकनीक का जनप्रिय प्रयोग उसे एक सभ्यता में परिणित करता है, यथा जीने का तरीका या जीवन निर्वाह। इस… Read More »

खनिज संसाधन क्या है?

पुर्नजागरण के उपरान्त संसार में एक नया बदलाव आया और व्यापारिक प्रतिस्पर्धा से यूरोपवासियों ने अथाह धन कमाया। ‘आवश्यकता ही आविष्कार की जननी हैं।’ संसार में एक से एक नवीन आविष्कारों ने खनिज का दोहन प्रांरभ कर दिया।  परिभाषा- ‘‘खनिज प्राकृतिक रासायनिक यौगिक तत्व हैं। जो पम्रुखतया अजैव प्रक्रियाओं से बना हैं। भूमि से खोदकर… Read More »

भूमि संसाधन क्या है?

भूमि हमारा मौलिक संसाधन है। ऐतिहासिक काल से हम भूमि से र्इंधन, वस्त्र तथा निवास की वस्तुएं प्राप्त करते आए हैं। इससे हमें भोजन, निवास के लिए स्थान तथा खेलने एवं काम करने के लिए विस्तृत क्षेत्र मिला है। यह कृषि, वानिकी, पशुचारण, मत्स्यन एवं खनन सामग्री के उत्पादन में प्रमुख आर्थिक कारक रहा है।… Read More »

संसाधनों का महत्व और प्रभावित करने वाले कारक

संसाधन का महत्व पर्यावरण में जैविक संसाधन में जीव-जन्तु तथा वनस्पति अति महत्वपूर्ण हैं, जबकि अजैविक संसाधनों में मिट्टी, जल, वायु, आदि मुख्य हैं। ये सभी तत्व एक दूसरे को प्रभावित करते हैं। प्रकृति में भूतल के प्रत्येक भाग में वनों का सृजन किया हैं, जहाँ पर्यावरण के अनुकूल विभिन्न प्रकार के जीवधारी रहते हैं। जीव-जन्तु… Read More »

भारत के खनिज संसाधन

हमारे देश में 100 से अधिक खनिजों के प्रकार मिलते हैं। इनमें से 30 खनिज पदार्थ ऐसे हैं जिनका आर्थिक महत्व बहुत अधिक है। उदाहरणस्वरूप कोयला, लोहा, मेंगनीज़, बाक्साइट, अभ्रक इत्यादि। दूसरे खनिज जैसे फेल्सपार, क्लोराइड, चूनापत्थर, डोलोमाइट, जिप्सम इत्यादि के मामले में भारत में इनकी स्थिति संतोषप्रद है। परन्तु पेट्रोलियम तथा अन्य अलौह धातु… Read More »

संसाधनों का वर्गीकरण

संसाधनों का वर्गीकरण Strungera nd Devis के अनुसार संसाधनों के दो मुख्य प्रकार हैं- (i) प्राकृतिक संसाधन एवं (ii) मानवीय संसाधन। प्राकृतिक पर्यावरण के सभी पदार्थ, तत्व तथा शक्तियाँ जिन्हें मानव अपने उद्देश्यों की पूर्ति के लिए अपनाता हैं, प्राकृतिक संसाधन कहलाते हैं। प्राकृतिक संसाधनों में भूमि, मिट्टी, खनिज (जैसे- कोयला, पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस, लौह… Read More »