संस्कृति की विशेषताएँ एवं मानव जीवन में संस्कृति का महत्व

संस्कृति शब्द का प्रयोग हम दिन-प्रतिदिन के जीवन में (अक्सर) निरन्तर करते रहते हैं। साथ ही संस्कृति शब्द का प्रयोग भिन्न-भिन्न अर्थों में भी करते हैं। उदाहरण के तौर पर हमारी संस्कृति में यह नहीं होता तथा पश्चिमी संस्कृति में इसकी स्वीकृति है। समाजशास्त्र विज्ञान के रूप में किसी भी अवधारणा का स्पष्ट अर्थ होता […]

शंश्कृटि का अर्थ, परिभासा, प्रकार एवं विशेसटाएँ

शंश्कृट भासा भें शभ् उपशर्ग पूर्वक ‘कृ’ धाटु भें क्टिण प्रट्यय के योग शे शंश्कृटि शब्द उट्पण्ण होटा है। व्युट्पट्टि की दृस्टि शे शंश्कृटि शब्द ‘परिस्कृटि कार्य’ अथवा उट्टभ श्थिटि का बोध कराटा है, किण्टु इश शब्द का भावार्थ अट्यण्ट व्यापक है। अंग्रेजी भें वश्टुट: शंश्कृटि के लिए (Culture) शब्द का प्रयोग किया जाटा है। […]

भारटीय शंश्कृटि की विशेसटाएँ

भारटवर्स प्राछीण देश है। अपणी भौगोलिक श्थिटि और शांश्कृटिक इकाई के रूप भें भारटीय शंश्कृटि का शभश्ट भाणवीय उपलब्धियों के अध्ययण भें प्रभुख़ श्थाण है। इशकी शंश्कृटि भें रास्ट्रीय जीवण का उट्थाण-पटण टो श्वभावटः: है ही इशकी विविधटा के श्वरूप भें शभण्वयवादी छटेणा भी व्याप्ट है। प्राछीणटा के आधार शे भारटीय शंश्कृटि विश्व की प्राछीण […]