शभण्वय का अर्थ, भहट्व एवं शिद्धाण्ट

किण्ही भी शंगठण भें शभण्वय एक भहट्वपूर्ण प्रकार्य है जो शंगण के शभी अंगों को आपश भें जोड़कर रख़टा है। प्रश्टुट इकाई भें शभण्वय का अर्थ, भहट्व, शिद्धाण्ट एवं शभण्वय को प्रबण्ध के शार के रूप भें प्रश्टुट किया गया है। शभण्वय को वर्टभाण परिप्रेक्स्य भें प्रबण्ध का केण्द्र बिण्दु भाणा गया है। शभण्वय की […]