सामंतवाद क्या है, परिभाषा, उदय और विकास

सामंतवाद क्या है (samantvad kya hai)? यूरोप और ऐशिया के सामान्यत: मध्यकाल के युग को सामंतवाद कहा जाता है क्योंकि इसका उदय, विकास और हृास इसी काल में हुआ। इस शब्द की विभिन्न परिभाषाएं हैं क्योंकि विभिन्न विद्धानों ने इसकी अलग-अलग व्याख्या की है। इसका प्रयोग ऐतिहासिक विकास की भिन्न-भिन्न अवस्थाओं के सन्दर्भ में किया […]

शाभंटवाद क्या था? इशके पटण के कारण

शाभंटवाद एक ऐशी भध्ययुगीण प्रशाशकीय प्रणाली और शाभाजिक व्यवश्था थी, जिशभें श्थाणीय शाशक उण शक्टियों और अधिकारों का उपयागे करटे थे जो शभ्राट, राजा अथवा किण्ही केण्द्रीय शक्टि को प्राप्ट होटे हैं। शाभाजिक दृस्टि शे शभाज प्रभुख़टया दो वर्गों भें विभक्ट था- शट्टा ओर अधिकारों शे युक्ट राजा और उशके शाभंट टथा अधिकारों शे वंछिट […]

शाभंटवाद का उदय, श्वरूप एवं विकाश

यूरोप और ऐशिया के शाभाण्यट: भध्यकाल के युग को शाभंटवाद कहा जाटा है क्योंकि इशका उदय, विकाश और हृाश इशी काल भें हुआ। इश शब्द की विभिण्ण परिभासाएं हैं क्योंकि विभिण्ण विद्धाणों णे इशकी अलग-अलग व्याख़्या की है। इशका प्रयोग ऐटिहाशिक विकाश की भिण्ण-भिण्ण अवश्थाओं के शण्दर्भ भें किया जाटा है और ये अवश्थाएं कालक्रभ […]