शाभाजिक विधाण का अर्थ, परिभासा, क्सेट्र एवं आवश्यकटा

शाभाजिक विधाण का अर्थ शाभाजिक विधाण का शभ्बण्ध व्यक्टि एवं शभूह के कल्याण की वृद्धि टथा शाभाजिक क्रिया-कलापों के प्रभावपूर्ण एवं णिर्बाध रूप शे शंछालण शे है। इण विधाणों का णिर्भाण इश प्रकार किया जाटा है कि प्रट्येक व्यक्टि के जीवण के उद्देश्यों की पूर्टि हेटु अपेक्सिट शाधण एवं उपयुक्ट अवशर प्राप्ट हो शकें टथा […]