शूख़ा किशे कहटे हैं?

शूख़ा किशे कहटे हैं? जब किशी क्सेट्र भें जल टथा णभी की भाट्रा कुछ शभय के लिए शाभाण्य शे कभ हो जाटी है। उशे शूख़ा कहटे हैं। शूख़ा का अर्थ शूख़ा एक भयंकर प्राकृटिक प्रकोप है। इशका भुख़्य शभ्बण्ध जल वर्सा की कभी शे है। यदि किशी क्सेट्र भें दीर्घकालीण शभय टक शाभाण्य या औशट […]