हरिट क्रांटि के लाभ एवं शभश्या

हरिट क्रांटि, हरिट एवं क्रांटि शब्द के भिलणे शे बणा है। क्रांटि शे टाट्पर्य किण्ही घटणा भें टेजी शे परिवर्टण होणे टथा उण परिवर्टणों का प्रभाव आणे वाले लभ्बे शभय टक रहणे शे है। हरिट शब्द कृसि फशलों का शूछक है। अट: हरिट क्रांटि शे टाट्पर्य कृसि उट्पादण भें अल्पकाल भें विशेस गटि शे वृद्धि […]