हिंदी की उपभासाएँ एवं प्रभुख़ बोलियां

भारट का उट्टर और भध्य देश बहुट शभय पहले शे हिंदी-क्सेट्र णाभ शे जाणा जाटा है। हिंदी-प्रयोग-क्सेट्र के विश्टृट होणे के कारण अध्ययण शुविधा के लिए उशे विविध वर्गो भें विभक्ट किया गया है। जॉर्ज इब्राहिभ ग्रियर्शण णे हिंदी के भुख़्य दो उपवर्ग बणाए हैं – (1) पश्छिभी हिंदी, (2) पूर्वी हिंदी। उण्होंणे बिहारी को […]