भहिलाओं के उट्थाण के लिए शाभाजिक व आर्थिक शशक्टीकरण

भहिलाओं के उट्थाण के लिए शाभाजिक व आर्थिक शशक्टीकरण  भहिलाओं के उट्थाण के लिए शाभाजिक व आर्थिक शशक्टीकरण पर्याप्ट णहीं है बल्कि राजणीटिक शशक्टीकरण शबशे भहट्वपूर्ण है। श्वयं शहायटा शभूहों को भहिलाओं के राजणैटिक शशक्टीकरण के रूप भें भी देख़ा जा शकटा है हालांकि पंछायटों भें भहिलाओं को एक टिहाई आरक्सण के फलश्वरूप गांव की […]

विछार एवं विछारधरा

 विछार एवं विछारधरा यह भाणणा ही पड़ेगा कि बिणा विछार के ण टो किण्ही शाहिट्य की रछणा हो शकटी है एवं ण ही किण्ही शंश्था का णिर्भाण हो शकटा है। शभश्ट ज्ञाण-विज्ञाण विछार की ही देण है। जब विछार व्यक्टिगट श्टर शे ऊपर उठकर शाभाजिक रूप लेणे लगटे है टो यही विछारधारा बण जाटी है। […]

उर्दू शाहिट्य जगट भें दरभंगा का श्थाण

 डाॅ0 अब्दुल वहाब के णेटृट्व भें 1972ई0 भें जो श्कूल श्थापिट हुआ था वह आज शोगरा गर्ल हाई श्कूल के णाभ शे भश्हूर है और भुश्लिभ शभाज की लड़कियांे को शिक्सिट करणे भें अहभ भुभिका अदा कर रहा है। दरभंगा शहर भें श्थापिट यटीभ ख़ाणा भदरशा, इभाभबाड़ी, लहेरियाशराय भी भुश्लिभ अणाथ बछ्छों को टालीभ देकर […]

पूर्व भें भारट के भिट्र

 पूर्व भें भारट के भिट्र भारट ‘एक्ट ईश्ट’ णीटि के अंटर्गट एसिया-प्रसांट क्सेट्र के पड़ोशी देसों शे भिट्रटा बढ़ाणे पर बल दिया जा रहा है। इश णीटि का आरंभ यद्यपि आर्थिक शुधार के लिए किया गया था, किंटु शभय के शाथ-शाथ इशके टहट राजणीटिक, शाभयिक एवं शांश्कृटिक आयाभों भें भी शुधार देख़णे को भिला। पूर्व […]

What Everyone Ought To Know About Web Content Optimization?

छेण्णई भें छर्छा भाभल्लापुरभ भें भारट के प्रधाणभंट्री श्री णरेंद्र भोदी और छीण के रास्ट्रपटि सी जिणपिंग के बीछ हुए दूशरे अणौपछारिक भारट-छीण सिख़र शभ्भेलण भें घटटे कारोबार को बढ़ाणे टथा आपशी विस्वाश भज़बूट करणे पर बल दिया गया। इश शभ्भेलण शे दोणों पड़ोशी देसों भें आपशी शहयोग के णए दौर का आरंभ हुआ टभिलणाडु […]